Issuu on Google+

उत्तराखंड आपदा - एक कौम ऐसी भी..! उत्तराखंड मे कुदरती आफत मे सेना की राहत के बीच एक कौम ऐसी भी है िजिसके िलिए मानवीय संवेदनाएं कोई मायने नहीं रखती। उनके िलिए आपदा भी एक पयर्यटन सीजिन की तरह है िजिसमे वे अपना चेहरा चमकाने का कोई मौका नहीं छोड़ते..!

उत्तराखंड मे भीषण त्रासदी के बाद से बीते कुछ िदनो मे कुछ ऐसा हुआ जिो िकसी का भी िसर शर्मर्य से झुकाने के िलिए काफी है लिेिकन खुद को जिनता के कणर्यधार बताने वालिे इस कौम के

लिोगो को शर्मर्य नहीं आती..! ये िवपदा मे िघिरे इंसानो के हालिातो पर भी अपनी नेतािगरी चमकाने का कोई मौका नहीं छोड़ते और लिाशर्ो पर भी अपनी राजिनीितक रोिटयां सेकने से गुरेजि नहीं करते..!

शर्ुरुआत जिैसे तैसे उत्तराखंड के मुख्यमंत्री बने िवजिय बहुगुणा से ही करे तो याद आता है िक

िकस तरह आपदा के बाद मुख्यमंत्री महोदय दे हरादन ू से रुद्रप्रयाग पहुंचने के बाद वहां से सीधे िदल्लिी के िलिए उड़ गए। िजिस बहुगुणा को लिोगो को अपने चौपर से उतरकर लिोगो के

बीच जिाकर उनका हौसलिा बढ़ाना था वो चाटुकािरता की सारी हदे पार करते हुए प्रभािवतो को उनके हालि पर छोड़कर अपने आकाओं के पास िदल्लिी के िलिए उड़ गए..!

लिौट कर वापस आए तो अपने आकाओं के साथ िजिनके चक्कर मे कई घिंटे तक राहत एवं

बचाव कायर्य रोकना पड़ा...वजिह बताई गई सरु क्षा..! लिेिकन इस बात का जिवाब िकसी के पास नहीं था िक मौत के मुंह मे फंसे करीब 80 हजिार लिोगो की िजिंदगी की क्या कोई कीमत नहीं है ..?

हवाई सैर को तरसने वालिे उत्तराखंड सरकार के मंियोत्रयो, िवधायको के िलिए तो मानो आपदा ने उनकी मन की मुराद परू ी कर दी। दे दनादन एक के बाद एक आपदा प्रभािवत क्षेत्रो के दौरे

के नाम पर मननीय खूब हवाई सैर कर रहे है। सरकार के एक कद्दावर मंत्री हरक िसंह रावत ने तो आपदा राहत सामग्री लिे जिाने की तैयारी मे है िलिपेड मे खड़े एक हे िलिकॉप्टर से अपनी हवाई सैर के िलिए राहत सामग्री तक उतरवा दी। अब इनके दौरो से आपदा प्रभािवतो को िकतना फायदा हुआ..? आपदा मे फंसे िकतने लिोगो की जिान इन्होने बचाई ये जिगजिािहर है ..!


अक्सर चचार्यओं मे रहने वालिे गजि ु रात के मुख्यमंत्री नरे न्द्र मोदी साहब का उत्तराखंड दौरा बहुगुणा सरकार के साथ ही केन्द्र सरकार को भी खलि गया तो उन्होने िकसी भी वीआईपी को आपदा प्रभािवत क्षेत्रो मे जिाने पर रोक लिगाने का आदे शर् जिारी कर िदया लिेिकन मजिबूत पीआर वालिे सीएम साहब ने 15 हजिार गजि ु राितयो को बचाकर अपने साथ लिे जिाने का दावा कर सबकी नींद उड़ा दी...ये बात अलिग है िक अब उस पर पाटी की तरफ से सफाई पेशर् करने का दौर शर्रु ु हो चक ु ा है ..!

ं े और अपने नेता के िलिए अपने ही आदे शर् को पलिटने वालिे केन्द्रीय गह ृ ं मंत्री सुशर्ीलि कुमार िशर्द बहुगुणा िफर िववादो मे िघिरे जिब राहुलि गांधी को तो उत्तराखंड के आपदा प्रभािवत क्षेत्रो का दौरा करने की ईजिाजित दे दी गयी जिबिक दस ू रे नेताओं को नहीं..!

ये छोिएड़ए अपदा के बीच अचानक से राहत सामग्री के ट्रको को हरी झंडी िदखाते हुए िदल्लिी मे अपनी मां सोिनया गांधी के साथ प्रकट हुए राहुलि गांधी ने िजिन ट्रको को प्रभािवतो की मदद के िलिए रवाना िकया था उनके पिहए ऋषिषकेशर् मे जिाकर थम गए...ख़बर है िक ट्रको मे आगे बढ़ने के िलिए न तो डीजिलि है और न ही ट्रक ड्राईवरो के पास खाने के िलिए पैसे..! अब इन

ट्रको को राहुलि के उत्तराखंड दौरे की भिू मका तैयार करने के िलिए और फोटो िखंचवाने के िलिए रवाना िकया गया था या िफर वास्तव मे मदद का जिज्बा था ये तो कांग्रेसी ही बेहतर जिानते होगे..! मै तो कहता हूं िक एक बार इन ट्रको का ितरपालि हटाकर भी दे ख लिेना चािहए िक ट्रको मे वाकई मे राहत सामग्री है भी िक नहीं..!

वहीं उत्तराखंड पहुंचने मे िजिन राज्यो के मुख्यमंत्री पीछे रह गए वे धड़ाधड़ उत्तराखंड पहुंचने लिगे और अपने अपने राज्यो के लिोगो के बीच उनके रहनुमा बनने की कोई कसर नहीं छोड़ी।

दे हरादन ू के जिौलिीग्रांट एयरपोटर्य पर आंध प्रदे शर् से कांग्रेस सांसद हनम ु ंत राव और टीडीपी सांसद रमेशर् राठौड़ की हरकतो ने तो शर्मर्य को भी शर्मर्य से पानी पानी कर िदया। वोटबैक की

राजिनीित के िलिए...खुद को आंध के लिोगो का िहमायती िदखाने के िलिए आपस मे ही गत्ु थम गत्ु था हो गए।

भीषण आपदा के बीच लिोगो को जिान के लिालिे पड़े हुए थे...लिोग भूख- प्यास से दम तोड़ रहे थे लिेिकन नेता इसमे भी अपना अपना वोटबैक तलिाशर् रहे थे। ये सब पूरे दे शर् की जिनता के

सामने हुआ लिेिकन अफसोस इसके बाद भी ये नेता िफर से िवधानसभा और संसद तक


पहुंचेगे..! हर बार यही तो होता आया है ...क्या हम उम्मीद कर सकते है िक अब जिागेगी दे शर् की जिनता..? और ऐसे नेताओं को सबक िसखाएगी..! deepaktiwari555@gmail.com


उतराखंड आपदा एक कौम ऐसी भी !