Page 1

पहिंदी प्रेस क्लब प्रस्तुपत पिलानी गुरुवार , 18 अक्टूबर 2012

प्रवाह पबट् स में बहती ख़बरों की धारा

स्टूडेंट यूनियि, बिट्स पिलािी और ह द िं ी प्रेस क्लि िेश करते

ै एक ऑिलाइि िोहटस

िोडड | िाइए सारे िोहटस अििे लैिटॉि िर और जानिये कैम्िस की

लचल बििा मेस िोडड िढ़े :

http://hpc.bits-student.org/test.html


पष्ृ ठ — 2

दो िल रुका पबट्पसयन्स का कारवािं....... िॉसम और ओएससस के सफर के िीच का सिसे िड़ा िड़ाव खत्म मुरझाये

ोठों िर िॉसम के िादलों की वर्ाड के िाद की

वो ओएससस की ठिं डक से खत्म

ो र ी

ू े और ु आ या यों क े कक सख ररयाली िर जो समडसेम की गमी िढ़ी अि

ै | पिछले अकादसमक सत्र के ि ले सेमेस्टर में ि ले T1

आता कफर िॉसम, इसके िाद T2 और कफर ओएससस कफर T3 आता मतलि साफ़

ै , ि ले िढाई

कफर मस्ती| लेककि इस िार ि ले िॉसम आया कफर समडसेम इसके िाद ओएससस, मतलि साफ़

ि ले मस्ती कफर िढाई, अिंधा क्या चा े दो आँखें| वैसे समडसेम के भी अििे मजे ोिे िर एक के लाइट T1 खत्म

ोते

ैं एक तो कम समय में िरीक्षा खत्म दस ू रा एक हदि में दो िेिर

ो जािे की टें शि भी कम

ी T2 शुरू और T2 खत्म

ोते

ो जाती

ै (जि कक दस ू रा अच्छा

ु आ ो)| ज ाँ ी T3, व ाँ सारा ककस्सा िस 7 हदिों में खत्म यानि

िुरािे ससस्टम में “चार हदि की चािंदिी कफर अँधेरी रात” थी व ाँ अि “7 हदि की ििंहदशें कफर िुरािी िात”

ै|

बिट्ससयन्स में समडसेम को लेकर गिंभीरता दे खते चचड़ड़या चग ु गयी खेत | यानि T1 खराि

ी ििती

ै क्यों कक कफर िछताय

ोत क्या जि

ो जािे िर T2,T3 लाइफ लाइि र ती थी जो अि ि ीिं

और कोम्प्री े न्न्सव के भरोसे कोई समडसेम को लाइट लेकर सीधे -सीधे खुद के िैरों िर कुल् ाड़ी ि ीिं मारिा चा े गा| समडसेम बिल्कुल आकाशी बिजली की तर िा सलया उिके मजे

आये और चले गये| न्जन् ोंिें उस क्षणिक उजाले में कुछ

ैं और जो लाइट लेकर सो र े थे अि वो कोम्प्री े न्न्सव की चचमिी के भरोसे

ैं| T1,T2,T3 का सूरज जो िूरे सेमेस्टर आशा ििाये रखता था अि अस्त

ो चुका

ै | ज ाँ िैच के

घोट T1 के िाद सामिे आ जाते थे अि समडसेम के िाद

ी िता चलता

ै कक

कौि ककतिा िािी में ! यानि आधा सेमेस्टर िूरा गलत फ मी में र िा और या तो समलती

ोश आये

ै रा त या कोम्प्री के प्रनत

चा त(एक मात्र स ारा)| खैर समडसेम का अििा म त्व था और िूरा

ो गया लेककि अि वक्त

का यानि 24*4 के सलए तैयार एक री-इन्वेंशि के साथ|

ै ओएससस ोिे का


1983 ैच री-यनू ियि

बिट्स पिलािी- 1983 िैच के छात्र इस वर्ड अििी रजत जयिंती मिािे,12 अक्टूिर को बिट्स प्रािंगि िधारे | उन् ें अििे समय की खट्टी-मीठी यादें ता़िा करिे का अवसर प्राप्त ु आ| अििे भव्य कैम्िस को िदलते दौर से गु़िरता दे ख उिका मि प्रफुन्ल्लत

ो उठा!

ऐसा प्रतीत

ु ः प्राप्त कर सलया ो| 12 की ु आ मािो उन् ोंिें अििे बिछड़े समत्रों को िि शाम को उन् ोंिे बिट्स भ्रमि ककया और भोजि के िाद ‘भल ू ी बिसरी यादें ’ िामक कायडक्रम का लुत्फ़ उठाया| 13 की सुि

ब्रेकफास्ट के िाद सि िैच-स्िैि के

सलए स्काई-लॉि में एकबत्रत

ु ए| प्रािंगि का भ्रमि करिे के िाद उन् ोंिे पिलािी,गोवा और ै दरािाद

कैम्िस

के

निदे शक

म ोदयों

से

मुलाकात की| कफर दोि र के भोजि के िाद अलुम्िी दो दलों में पवभान्जत

ो गए| एक दल

कक्रकेट खेलिे मेड-सी ग्राउिं ड चला गया, तो दस ू रा बिट्स के छात्रों से िात चीत करिे एल.टी.सी. चला गया| कक्रकेट का ि़िारा काफी रोमािंचक र ा | 1983 िैच के छात्र सफलता की ऊँचाइयों िर िैठकर अििे जीवि के सिसे सु ािे

हदिों के िारे में आज के छात्रों से वाताडलाि कर र े थे| उिका क िा था कक सी.जी.िी.ए. एक सीमा तक म त्व रखता

ैं| उन् ोिें अििे हदि याद करते

छात्रों को अििी कॉलेज लाइफ एन्जॉय करिे की सला

ुए दी| श्री उत्कर्ड राय िे अििे

अिुभवों को एकबत्रत करके एक िुस्तक ‘101 समथ्स एिंड ररयसलटीस @ ऑकफस‘ सलखी ककताि आज के छात्रों को ऑकफस की वास्तपवकताओिं का ज्ञाि दे ते

न्स्तचथयों के प्रनत श्रेष्ठ दृन्ष्टकोि के िारे में िताती

ैं |

ु ए पवसभन्ि

सूरज ढलिे को

ु आ तो सभी अलुम्िी इिंन्स्टट्यूट कैंटीि की ओर िढ़ हदए| व उन् ोंिें बिट्स सिंकाय के सदस्यों से वाताडलाि की| रात के भोजि के िाद म्यून्जक क्लि िे अलुम्िी के सलए म्यून्जक िाईट आयोन्जत की, न्जसिे अलुम्िी की पिलािी यात्रा िर चार चाँद लगा हदये| 14 अक्टूिर की सुि

अलुम्िी का य

 12 की शाम -

कैम्िस भ्रमि और ‘भल ू ी बिसरी यादें ’ िामक कायडक्रम |

 13 सि ु

में स्काई

लॉि में िैच-स्िैि; पिलािी,गोवा और ै दरािाद कैम्िस

निदे शकों से

मल ु ाक़ात;मेड-सी में कक्रकेट और

एल.टी.सी. में िातचीत ;म्यन्ू ़िक क्लि द्वारा

आयोन्जत म्यन्ू ़िक िाईट |

ै लेककि आत्मपवश्वास, तकड, िेतत्ृ व के गुि

आहद सफलता निधाडररत करिे के मुख्य आधार

| य

मुख्य ब दिं :ु

कारवािं

मारे िे तर भपवष्य की आशा जताते ु ए

अििी मिंन्जल के सलए निकल िड़ा|

 14 की सि ु अििी मिंन्जल के सलए रवािा |

 सफलता के सलए आत्मपवश्वास, तकड ,िेतत्ृ व ़िरूरी ;कॉलेज लाइफ एन्जॉय करिे की सला |

पष्ृ ठ — 3


पष्ृ ठ — 4

बॉसम ररव्यू कपमटी मिंगलवार, 17 अक्टूिर को SAC एम्फीचथएटर

में िी.आर.सी उफड “िॉसम ररव्यू कसमटी”

की शरु ु आत काफी 'सभ्य' और शािंत तरीके से ु ई। ज ाँ अचधकािंश टीमें जैसे िैडसमिंटि(िरु ु र् वगड), वॉलीिॉल

अिि ु न्स्थत र ीिं व ीिं कुछ क्लि और

ड़डिाटड मेंट्स िे भी भाग लेिा ़िरूरी ि ीिं समझा|

सी.सी.टी.वी. के प्रनतनिधी की सशकायत

कोसैकि ससमनत के कुछ सदस्यों को लेकर थी न्जन् ोंिें िॉसम वेिसाईट िर अििा

अकाउिं ट एक िार भी ि ीिं खोला, न्जस कारि कई प्रनतभाचगयों को अििे सवालों के जवाि ि ीिं समल िाये ोंगे | झिंकार के िजट में की गयी कटौती के कारि स्रीट फुटिाल के आयोजि में कमी हदखाई दी और

इस िात को कोसैकिंस िे स्वीकार ककया।

एच.िी.सी िे एस.एम.एस िाटड िर िा समलिे िर रोर् प्रकट ककया। इसके साथ साथ कम इन्वें टरी समलिे का भी कारि िछ ू ा न्जसका कारि िी.सी.आर प्रनतनिधी िे रे प्रोग्राफी का ड़डिाटड मेंट िदल जािा िताया | िॉसम 2012 के दौराि कई णखलाड़ड़यों और उिके सिंिचिं धत कॉलेजों के िाम ि ले से ििंजीकृत सच ू िा से

सभन्ि ि़िर आये न्जस िर फायरवॉल़्ि का प्रनतनिचधत्व करिे आए छात्र िे सफाई दे ते ु ए क ा कक उन् ें और भी अन्य कायड ोते ैं और ये घटिाएँ िाररश के कारि ो सकती ै | इस िर कक्रकेट टीम कप्ताि शाककर िे

भपवष्य में िॉसम में इस तर

की घटिाओिं को कम करिे के सलए उिाय खोजिे की सला

स्क्वॉश के णखलाड़ड़यों िे गें दों की कमी

दी|

ोिे की सशकायत की। िी.आर.सी के इस मिंच िर तो एच.िी.सी

भी िा िच िाया, और न्स्वसमिंग की कप्ताि िे “स्िधाड” पवशेर्ािंक में न्स्वसमिंग का मजाक ििािे का इल़्िाम लगा डाला,

ाँलाकक ऐसा कुछ भी इरादति ि ीिं ककया गया कफर कोई राई का ि ाड़ ििा डाले तो

क्या ककया जाये? खैर िैठक में िया मोड़ ति आया जि

ॉकी के कप्ताि पवशाल चूिंडावत अििी जग

िर खड़े ु ए और सशकायतों की सच ू ी ाथ में लेकर क उठे "क ाँ से शरू ु करूँ"| िफड के डब्िों से लेकर पवजेता टीम के सलए निन्श्चत धि रासश तक, मैदाि की घास से रे फरी के खाििाि िर कौसैकिंस और कन्रोल़्ि के

ॉकी के प्रनत गैरिंअद िं ाज रवैये को कप्ताि िताते र े । वे तो क ते र े की कोसैकिंस का उन् ें

ककसी प्रकार का स योग प्राप्त ि ीिं ु आ। अभी तक तो कोसैकिंस िाररश आहद की आड़ लेकर िचते र े िर स योग की िात आते ी क उठे की िरू ा फेस्ट सिके स योग के कारि ी सफल ो िाया ै । इस िीच कई िार कोसैकिंस की ओर का मा ौल गरमा गया| अगले िीस समिट तक

ॉकी कप्ताि की समस्याएँ

व्यन्क्तगत और िैनतक-मल् ू यों से सिंिचिं धत थी इस िर कोसैकिंस िे “वाट्स द िॉइिंट?” क -क कर िात को


िष्ृ ठ 5 समझिे की कोसशश की |

ॉकी

कप्ताि िे तासलयाँ तो ि ु त िटोरी िरन्तु अिंत में कोसैकिंस और काफी अन्य लोगों की राय थी कक इतिे िड़े फेस्ट में कुछ कसमयािं र जाती

ै , इन् ें सुधारा जा सकता

जो काफी

द तक स ी भी

ै|

अिंत में भीड़ में ककसी िे सैक-एम्फी का फायदा उठाया और िॉसम

कित्रोल़्ि के द्वारा खो हदए गये गए 27,200 रूियों का ऩ्िक्र ककया। सिकी ि़िरें झक ु ी और BRC का समािि ु आ, इस आशा के साथ कक िॉसम का 28वाँ सिंस्करि,

2012 के मुकािले िड़ा और िे तर ोगा।

ड्रीम ग्रीि - ग्रीि वीक ग्लोिल वासमिंग या ी धरती के तािमाि में असामान्य चढ़ाई वत्तडमाि समय की एक गिंभीर ियडवररक समस्या ै |

इसका अगर जल्द ी उिाय ि ीिं ककया गया तो इसके प्रकोि से सभी जीवों को ानि ोगी | गाड़ड़यों और कारखािों

से निकलिे वाली गैस धरती के चारों ओर एक कवच ििा दे ती ,ैं जो धरती से निकलिे वाली ऊष्मा को वािस धरती की तरफ निदे सशत कर दे ती ै | न्जसके कारि धरती के तािमाि में उत्थाि और समद्र ु का स्तर ऊिर उठिा दे खा

गया ै | िफड के टिे से भक ू िं ि आिे का खतरा भी िढ़ जाता ै | ग्लोिल वासमिंग से मौसम में अनियसमत िदाव और ऋतओ ु िं में तीव्रता हदखाई दे र ी

ै |

इस समस्या से लड़िे के सलए म सभी को व्यन्क्तगत रूि से कदम उठािा ोगा |

में गाड़ड़यों का कम इस्तेमाल

करिा चाह ए, उसकी जग सावडजनिक यातायात सपु वधाओिं का प्रयोग करिा चाह ए |

मे अचधक से अचधक िेड़

लगािे चाह ए और बिजली िचािा चाह ए | अगर आि ियाडवरि सम्िन्धी िातों को जाििे में रूचच रखते ैं और उसकी भलाई के सलए अििा योगदाि दे िा चा ते ,ैं तो ग्रीि वीक से िे तर समाय कोई ि ीिं ै | आिे वाली ग्रीि वीक में ह स्सा लें और ियाडवरि के प्रनत अििी ऩ्िम्मेदाररयों को समझें |


पष्ृ ठ — 6

िष्ृ ठ 5

िष्ृ ठ

4

जॉय ऑफ़ गिवविंि वीक

“निमाडि” द्वारा शनिवार 12 अक्टूिर को “जॉय ऑफ़ चगपविंग डे” का आयोजि ककया गया|

इस अवसर िर पिलािी के आस िास के इलाकों से िन् े -मन् ु ों िे

िढ़चढ़ कर भाग सलया|

ररिगर से 10-15, िटिस्ती से तकरीिि 15 एविं भास

गाँव से कुछ छात्राओिं िे इस आयोजि में भाग सलया| कुल समलाकर 35 िच्चों में से 20 िच्चे sap के थे| इस आयोजि का मुख्य ध्येय अभावग्रस्त िच्चों के चे रों िर मस् ु काि बिखेरिे का था, न्जसके त त सिसे ि ले प्रातः 8 िजे िच्चों को योग का प्रारिं सभक एविं

ल्का फुल्का अभ्यास कराया गया| राम-िद्ध ु मेस में

िाश्ते के िाद िच्चों के सलए SAC में पवसभन्ि प्रकार के मिोरिं जक खेल आयोन्जत ककए गये| ज ाँ CrAC िे िच्चों के साथ रिं गोली ििाकर उन् ें खश ु ी में सरािोर कर हदया , व ीीँ इन्फोमडल़्ि की िीम्िू रे स का भी िच्चों िे खि ू लुत्फ़ उठाया| डािंस क्लि आईस्क्रीम पवतरि

के सदस्यों के साथ िन् ें कदम भी चथरके| ढे र सारी मौज मस्ती के िाद

ु भवि में खािा णखलाया गया| कफर एल.टी.सी. में किंु ग-फू-िािंडा ु आ और उिको राम-िद्ध

कफल्म की स्क्रीनििंग भी थी न्जसिे िच्चों को काफी गद ु गद ु ाया| प्रोफेससड िे भी अििा कुछ कीमती वक्त इि िच्चों कों हदया| अिंत में जि चगफ्ट पवतरि य

आयोजि अििे उद्देश्य में काफी

ु ी दे खते ु आ ति तो िच्चों की खश

द तक सफल र ा|

ी ििती थी| निमाडि द्वारा


पष्ृ ठ — 7

सिंगम नाईट 2k12 समडसेम के तिाव भरे मा ौल के िाद शक्र ु वार 12 अक्टूिर को 'सिंगम िाईट’ का आयोजि अििे में एक अलग काफी हदिों से पवलिंबित सिंगम

ी अिभ ु व र ा।

ो र ी सिंगम िाईट का आणखर दशडकों से

ी गया| अििी यादों को ता़िा करिे आये

भत ू िव ू ड

बिट्ससयन्स िे भी िाईट का भरिरू लत्ु फ़ उठाया। जी.सन् ु दर सर के कर-कमलों से

ु ए इस कायडक्रम में ित्ृ य से शुरू ु ई| िरन्तु ित्ृ य तालमेल और अभ्यास के

प्रस्तुनतयाँ

दीि प्रज्जज्जवलि के साथ शुरू

मामले में माईम वाली िुलिंहदयाँ ि ीिं छू सका|

दशडक माईम

प्रस्तुनत 'अ डे इि बिट्स' की प्रशिंसा करते ि ीिं थके। माईम में गल्सड और िॉय्ज़ि

ॉस्टल में

के पविरीत अिंदाज का ियाि, एिंग्री िर्डडस में टी.डी.सी. का कट्टा और निमडल िािा द्वारा करिे का अििा

पवचचत्र तरीका

सभी को

भा गया। सेमेस्टर के पवशेर् हदिों

जन्महदि मिािे

समस्या का समाधाि

में बिट्ससयन्स की न्स्थनत

ियाि करता “फूफू की क ािी” वीड़डयो िे भी िरािर वा वा ी लूटी| सिंगम िाईट का मुख्य आकर्डि उिकी माईम की प्रस्तुनत र ी|

इस छोटी ककन्तु आििंदमयी िाईट का समािि ित्ृ य के साथ ु आ।

उत्कल ग्रब:भोजी रपववार 14 अक्टू िर को उत्कल समाज द्वारा “भोजी” ग्रि का आयोजि ककया गया| वे ज और िॉिवे ज ग्रि में उत्कल समाज िे ककसी को कोई सशकायत का मौका ि ीिं हदया , िात अलग ै कक ग्रि में लोगों की कम सिं ख्या के चलते ग्रि का अ सास कम और साधारि मे स के वातावरि का आभास अचधक

ो र ा था| वे ज ग्रि में 3 तर

िरोसा गया जो ऐसा समष्ठाि था जो कम

के समष्ठािों से सजी थाली में खीर पवशे र् रूि से

ी जग

प्राप्त

ोता

ै | िॉि-वे ज ग्रि

मे शा की तर

अच्छा र ा| स्टाटड र में हदया गया ”आमिन्िा” िामािु सार आम के फ्ले व र में हदया गया रसिा का जायका मधु र लगा|

“The Natural History Society” प्रकृनत और वाइल्र्डलाइफ प्रेसमयों के सलए खश ु खिरी, का लक्ष्य प्राकृनतक सिंरक्षि को िढ़ावा दे िा ै | य की उिज

ाल

ी में अन्स्तत्व में आई ‘The Natural History Society’

अिौिचाररक ससमनत द्पवतीय वर्ड के छात्र स ज दासोत के हदमाग

ै| खोज, सिंस्कृनत, िरिं िरा, वाइल्र्डलाइफ, रे ककिं ग, कैन्म्ििंग आहद सशक्षाप्रद व मिोरिं जक गनतपवचधयों के

माध्यम से आिको प्रकृनत के और करीि लािा TNHS का मख् ु य लक्ष्य भी कर र ी

ै| य

ै , न्जसका मख् ु य आकर्डि ह मालय से आिका साक्षात्कार करवािा

दश रे के दौराि एक रे क का आयोजि

ै | 20 से 25 अक्टूिर तक चलिे वाले

इस रे क में 13000 फुट तक की ऊिंचाई का सफर तय ककया जायेगा| इस ससमनत से जुड़िे के सलए लॉग-ऑि करे https://www.facebook.com/groups/tnhsbits/ िर या कॉल करें 9602243423 (स ज दासोत) िर|


पष्ृ ठ — 8

िष्ृ ठ 5

िमसे जुड़िये ऑिलाइि: http://hpc.bits-student.org www.facebook.com/hpc.bitspilani

अपिे सझ ु ाव िमें भेजें : hindipressclub@gmail.com

हिन्दी प्रेस पररवार ककशि, सुरसभ | सुसमत, अिुजा, निशािंक, रोह त, ससद्धािंत, नितीश, धििंजय, िे ा | वैभव, सोमजी, ईशाि, शसशि, िीनत, श्रेय, अिंशुल, माधव, रजत, सुचचता, सिंवेदा | अभय, आनतफ़, अििंत,अनिरुद्ध अग्रवाल, अनिरुद्ध समश्र, राजेश, िारस, सोिाली, कररश्मा, पियूर्, रपव, िीनतका, मॉनिका, खुशिू , आहदत्य, अणखलेश , हदव्यािंशु |

अचचडत , अहदनत, प्रिय, आकृनत, रजत, अिंककता, यश, इलाश्री , सुयश, रवीिा, दे वेन्द्र, सत्यम, प्रािंजल, प्रवीि , निकेश |


Pravah 18 October  

BRC, Joy Of Giving Week, Comic Strip on MidSem, T1 , T2 and much more

Read more
Read more
Similar to
Popular now
Just for you