Page 1

माऱेगाव (महाराष्ट्र )--- रे नक ु ाबाई भाऊसाहब हीरे उच्च माध्यममक कन्या ववद्याऱय में नैतिक मल् ू यों का ऩाठ आयोजक –स्थानीय ब्रह्माकुमारीज माऱेगाव कैं ऩ सेंटर (महाराष्ट्र) मुख्य वक्िा ---बी के भगवान ् भाई माउं ट आबू ववषय –-- नैतिक मिऺा का महत्व वरंमसऩऱ –श्रीमति मगऱा हीरे सीतनयर मिऺक ---श्री तनकम टी आर सर श्री िमि ऩावर सर बीके ममिा बहन रभारी ब्रह्माकुमारीज माऱेगाव कैं ऩ सेंटर (महाराष्ट्र) सभी मिऺक वगग उऩस्स्थि थे बी के सचचन सर


भगवान ् भाई ने कहा की कक िैऺणिक जगि में ववद्याचथगयों के मऱए नैतिक मल् ू यों को जीवन में धारि करने की रेरिा दे ना आज की आवश्यकिा है । उन्होंने कहा कक नैतिक मल् ू यों की कमी यही व्यस्क्िगि, सामास्जक, ऩाररवाररक, राष्ट्रीय एवं अन्िरागष्ट्रीय सवग समस्याओं का मूऱ कारि है। ववद्याचथगयों का मूल्यांकन आचरि, अनस ु रि, ऱेखन, व्यवहाररक ऻान व अन्य बािों के मऱए रेरिा दे ने की आवश्यकिा है । ऻान की व्याख्या करिे हुए उन्होंने बिाया कक जो मिऺा ववद्याचथगयों को अंधकार से रकाि की ओर, असत्य से सत्य की ओर, बन्धनों से मस्ु क्ि की ओर ऱे जाए वही मिऺा है । उन्होंने कहा कक अऩराध मक् ु ि समाज के मऱए संस्काररि मिऺा जरूरी है । है ।

मालेगाव (महाराष्ट्र ) रेनुकाबाई भाऊसाहब हीरे उच्च माध्यमिक कन्या विद्यालय  
मालेगाव (महाराष्ट्र ) रेनुकाबाई भाऊसाहब हीरे उच्च माध्यमिक कन्या विद्यालय  
Advertisement