Page 1

याजोंद (हरयमाणा )—गोल्ड राइप हाई स्कूर भें नैतिक शिऺा का भहत्व ववषम ऩय प्रोग्राभ आमोजक –स्थानीम ब्रह्भाकुभायी

सेवाकेंद्र याजोंद

(हरयमाणा ) भख् ु म वक्िा ---ब्रह्भकुभाय बगवान ् बाई भाउॊ ट आफू ववषम –-नैतिक शिऺा का भहत्व प्राचामय –मिऩार याना फी के प्रेयणा फहन याजमोग शिक्षऺका याजोंद हरयमाणा फी के नीरभ फहन

याजमोग शिक्षऺका असॊध

हरयमाणा

फी के भेहयचॊद बाई जी वरयष्ठ याजमोगी कयनार फी के ियिेभ बाई, फी के सन ु ीर बाई ,फी के अतनर बाई औय सबी शिऺक स्टाप बी उऩस्स्थि थे


भाउॊ ट आफू से आमे हुए फी के बगवान ् बाई ने कहा भल् ू मऩयक शिऺा के बफना ‘शिऺा’ अशिऺा है । शिऺा से आिम केवर डडग्री नहीॊ है , फस्ल्क ऐसा ऻान जो सभाज के उन्नमन भें दीऩक की बाॊति कबी न फझ ु ने वारी ददव्म ज्मोति हो। दे ि औय सभाज भें शिक्षऺि व्मस्क्ि की कद्र उसी सनािन ऩयॊ ऩया के िहि आज बी बायि भें होिी है। ग्राभीण बायि भें मह आज बी ववद्मभान है ।उन्होंने फिामा कक

शिऺा नीति से नैतिकिा का े़ कापी ह्मस हुआ। इसका प्रस्पुटन सबी ऺेत्रों भें ववद्मभान है । बगवान ् बाई ने फिामा कक कबी सत्म-याष्रीमिा, सभऩयण, फशरदान का ऩमायम भाने जाने वारा शिक्षऺि अफ धोखेफाज औय स्वाथी के रूऩ भें जाना जािा है । कायण, नैतिकिा को प्राथशभक शिऺा से ही सभाप्ि कय दे ना। गरू ु कर शिऺा व्मवस्था को जान-फझ ू कय हिोत्सादहि ककमा गमा।


उन्होंने कहा कक हभ ऐसे ही से बौतिक रूऩ भें सभद् ृ ध हो यहे हैं। माॊबत्रक गति से दौड़ यहे हैं, ऩय क्मों, भारभ ू नहीॊ। सूचनाओॊ का अऩाय बॊडाय इक्टठा हो यहा है , ऩय ववचाय-गवेषणा िून्म है । कायण, नैतिकिा, प्रतिफद्धिा, तन्स्वाथयिा गौण है । बगवान ् बाई ने ‘‘सच्ची शिऺा वह है, स्जससे चरयत्र का तनभायण होिा है। ियीय औय भन फरिारी फनिे हैं, फुद्धध फढ़िी है औय व्मस्क्ि आत्भतनबयय फनिा है। वे ऐसी शिऺा दे ने के ऩऺ भें थे, स्जससे उसका चरयत्र फने, फुद्धध का ववकास हो, भानशसक िस्क्ि फढ़े औय वह अऩने ऩैयों ऩय खड़ा हो सके। उनकी नजय भें शिऺा का एकभात्र उद्दे श्म भनष्ु म का तनभायण िथा ववकास कयना है । उन्होंने फिामा कक

व्मस्क्ि के साथ ही याष्र का

ववकास बी शिऺा का उद्दे िम होना चादहए। वह ऐसी शिऺा के ववयोधी थे, स्जसके द्वाया नौकयी प्राप्ि कयके अऩना ऩेट भात्र बया जा सके। आधुतनक शिऺा ने


भनुष्म को आत्भववश्वासी, सऺभ औय तनष्ठावान नहीॊ फनामा, इसी कायण अनेक सभस्माएॉ ऩैदा हो गईं।

राजोंद (हरियाणा )—गोल्ड लाइफ हाई स्कूल में नैतिक शिक्षा का महत्व विषय पर प्रोग्राम  
राजोंद (हरियाणा )—गोल्ड लाइफ हाई स्कूल में नैतिक शिक्षा का महत्व विषय पर प्रोग्राम  
Advertisement