Page 1

नेवासा (भहायाष्ट्र )—जीजाभाता उच्च भाध्ममभक अमबमाांत्रिकी ववद्मारम बेंडा नेवासा (भहायाष्ट्र ) आमोजक –स्थानीम ब्रह्भाकुभायी

सेवाकेंद्र नेवासा

(भहायाष्ट्र ) भख् ु म वक्ता ---ब्रह्भकुभाय बगवान ् बाई भाउां ट आफू ववषम –-नैततक मिऺा का भहत्व प्राचामय --बस ु ायी ऍभ ऍभ फी के वांदना फहन स्थानीम ब्रह्भाकुभायी याजमोग मिक्षऺका

नेवासा

भहायाष्ट्र

फी के रुतज ु ा फहन याजमोग मिक्षऺका

नेवासा

ऩिकाय –सुखदे व पुरायी दे तनकी सवयभत न्मज़ ू ऩेऩय ऩिकाय ---श्री गयड दे तनकी ऩढ ु ायी न्मज़ ू ऩेऩय भुग्िे गुरूजी भांच सांचारन --कजोने सय


बगवान ् बाई ने कहा की कक िैऺणणक जगत भें ववद्मार्थयमों के मरए नैततक भल् ू मों को जीवन भें धायण कयने की प्रेयणा दे ना आज की आवश्मकता है । उन्होंने कहा कक नैततक भल् ू मों की कभी मही व्मक्क्तगत, साभाक्जक, ऩारयवारयक, याष्ट्रीम एवां अन्तयायष्ट्रीम सवय सभस्माओां का भूर कायण है। ववद्मार्थयमों का भूल्माांकन आचयण, अनस ु यण, रेखन, व्मवहारयक ऻान व अन्म फातों के मरए प्रेयणा दे ने की आवश्मकता है । ऻान की व्माख्मा कयते हुए उन्होंने फतामा कक जो मिऺा ववद्मार्थयमों को अांधकाय से प्रकाि की ओय, असत्म से सत्म की ओय, फन्धनों से भक्ु क्त की ओय रे जाए वही मिऺा है । उन्होंने कहा कक अऩयाध भक् ु त सभाज के मरए सांस्कारयत मिऺा जरूयी है । है ।

नेवासा (महाराष्ट्र )—जीजामाता उच्च माध्यमिक अभियांत्रिकी विद्यालय भेंडा नेवासा (महाराष्ट्र )  
नेवासा (महाराष्ट्र )—जीजामाता उच्च माध्यमिक अभियांत्रिकी विद्यालय भेंडा नेवासा (महाराष्ट्र )  
Advertisement