Page 1

बारकी

( कनााटक ) बारकेश्वेय हाई स्कूर बारकी भें नैतिक भल् ू म ऩय

कामाक्रभ आमोजक –स्थानीम ब्रह्भाकुभायीज बारकी

(कनााटक)

भख् ु म वक्िा ---फी के बगवान ् बाई भाउं ट आफू ववषम –आदर्ा शर्ऺक औय सकायत्भक चिन्िन हे ड भास्टय –श्री फाराजी बफयादय फीके याधा फहन प्रबायी ब्रह्भाकुभायीज बारकी भंि संिारन—कार्ीनाथ ऩाटटर

(कनााटक)

वरयष्ठ टीिय

फाफुयाभ गाभा वकीर बारकी ववट्टर अहभदाफादे वकीर छात्र-छात्राओं के सवाांगीण ववकास के शरए बौतिक शर्ऺा के साथ नैतिक शर्ऺा जरूयी है । नैतिक शर्ऺा से ही सवाांगीण ववकास संबव हो सकेगा। मह वविाय प्रजाऩति ब्रह्भकुभायी ईश्वयीम ववश्वववद्मारम, भाउं ट आफू, याजस्थान से आए याजमोगी ब्रह्भ कुभाय बगवान बाई ने -छात्राओं को संफोचधि कयिे सभम ककमा। बगवान बाई ने कहा कक र्ैऺणणक जगि भें ववद्माचथामों के शरए नैतिक भल् ू मों को जीवन भें धायण कयने की प्रेयणा दे ना आज की आवश्मकिा है । नैतिक भूल्मों की कभी व्मक्क्िगि साभाक्जक, ऩारयवारयक, याष्रीम एवं अंियााष्रीम सभस्मा


का भर ू कायण है । उन्होंने कहा कक आज के ववद्माथी कर का सभाज हैं। इसशरए स्कूरों के भाध्मभ से इन्हें िरयत्रवान फनाएं। स्थानीम केंद्र की ब्रह्भकुभाय याधा फहन ने कहा कक िरयत्रवान फनने के शरए मुवाओं को शसनेभा, व्मसन, पैर्न एवं कुसंगति से दयू यहना होगा।

भालकी ( कर्नाटक ) भालकेश्वेर हाई स्कूल भालकी में नैतिक मूल्य पर कार्यक्रम  
भालकी ( कर्नाटक ) भालकेश्वेर हाई स्कूल भालकी में नैतिक मूल्य पर कार्यक्रम  
Advertisement