Page 1

कुछ बफहाय (ऩश्चिभ फंगार )---जाट ये जभेंट के जवानो को तनाव भश्ु तत ऩय कामयक्रभ आमोजक –स्थानीम ब्रह्भाकुभायीज कुछ बफहाय (ऩश्चिभ फंगार ) प्रभख ु अततथथ –सब ु ेदाय भेजय ककशोय याभ सब ु ेदाय शाभ ससंह भख् ु म वतता --–ब्रह्भाकुभाय बगवान बाई भाउं ट आफू ववषम--- तनाव भत ु त सकायात्भक थिंतन ऩय प्रोग्राभ फी के

फहन

फी के सऩन बाई सीतनमय याजमोग सशऺक

कापी सख्मा भें जवान बी उऩश्स्थत थे इस अवसय ऩय याजमोगी सशऺक फी के बगवान ् बाई ने कहा कक सकायात्भक सोि द्वाया ववऩरयत ऩरयश्स्थतत भें हरिर

, तनयाशा भें बी आशा की ककयण ददखने


रगती है। अऩनी सभस्मा को सभाप्त कयने एवं सपर जीवन जीने के सरए वविायों को सकायात्भक फनाने की फहुत आवचमकता है। बगवान ् बाई ने फतामा कक स्थर ू हत्मायों के साथ अगय हभाय ऩास सत्मता , ईभानदायी ,

धीयता , दे शा प्रेभ आदद आदद सद्गण ु हो तो हभ दे शा सेवा के साथ स्वमभ कक बी सेवा क्र ऩामेगे उन्होंने कहा कक सभस्माओं का कायण ढूढने की फजाए तनवायण ढं ूूढ़े। बगवान ् बाई ने फतामा कक हभ दस ु यो ऩय शासन व्ही क्र सकता है जो स्वमं अनश ु ावषत है हभ दस ु यो ऩय शासन कयनेवारे है इससरए हभाये भें कोई बी प्रकाय का व्मसन नशा न हो उन्होंने कहा कक सभस्मा का थिंतन कयने से तनाव की उत्ऩवि होती है। भन के वविायों का प्रबाव वातावयण ऩेड़-ऩौधों तथा दस ू यों व स्वमं ऩय ऩड़ता

है । मदद हभाये वविाय सकायात्भ है तो उसकासकायात्भक प्रबाव ऩड़ेगा। उन्होंने फतामा कक जीवन को भुतत,दीघायम,ु शांत व सपर फनाने के सरए हभें सफसे


ऩहरे वविायों को सकायात्भक फनाना िादहए। याजमोगी बगवान बाई ने कहा कक सकायात्भक वविाय से सभस्मा सभाधान भें फदर जाती है । एक दस ू यों के प्रतत सकायातभक वविाय यखने से आऩसीबाई िाया फना

यहता है । उन्होंने सत्संग एवं आध्माश्त्भक ऻान को सकायात्भक सोि के सरए जस्री फताते हुए कहा कक हभ अऩने आत्भफर से अऩना भनोफर फढ़ा सकते है । सत्संग के द्वाया प्राप्त ऻान प्रोग्राभ कक शुयवात भें फी के सऩन बाई ने ब्रह्भाकुभायी सस्था का ववस्ताय से ऩरयिम ददमा औय ॐ ध्वनी क्र याजमोग का भहत्व फतामा प्रोग्राभ के अंत भें सब ु ेदाय भेजय ने बी अऩना संफोधन दे ते हुए कहा कक वतयभान कक ऩरयश्स्थतत भें भेडडटे शन बुत ही जरूयी है जो आज ब्रह्भाकुभायी ववद्मारम सबी को ससखा यहा है उन्होंने फतामा कक हभ शयीय को ठीक यख असकते है ऩयन्तु भन के द्वाया शयीय िरता है अततथथमों को इचवयी सोगात बी दी गमी


अंत भें बी बगवान ् बाई ने याजमोग का अभ्मास बी कयामा

कुछ बिहार (पश्चिम बंगाल ) जाट रेजमेंट के जवानो को तनाव मुक्ति पर कार्यक्रम  
कुछ बिहार (पश्चिम बंगाल ) जाट रेजमेंट के जवानो को तनाव मुक्ति पर कार्यक्रम  
Advertisement