Page 1

राहता (महाराष्ट्र )— शारदा संकुऱ में नैततक मूल्य ऩर काययक्रम आयोजक –स्थानीय ब्रह्माकुमारी

सेवाकेंद्र राहता

(महाराष्ट्र ) मख् ु य वक्ता ---ब्रह्मकुमार भगवान ् भाई माउं ट आबू ववषय –- नैततक मल् ू यो का जीवन में महत्व वरंससऩऱ-- राजेन्द्द्र बडे उऩ –वरंससऩऱ ---रामभाऊ गमे कन्द्या शाऱा वरंससऩऱ –श्रीमती ऱम्बोते मडम बी के गीताजऱी बहन स्थानीय ब्रह्माकुमारी

राहता

महाराष्ट्र बी के बबऱाय भाई , बी के महे श भी उऩस्स्थत थे सुखी जीवन के सऱए भौततक सशऺा के साथ नैततक सशऺा भी जरूरी है । भौततक


सशऺा से हम रोजगार राप्त कर सकते हैं, ऱेककन ऩररवार, समाज, काययस्थऱ में ऩरे शानी या चन ु ौती का मुकाबऱा नहीं कर सकते।उक्त उद्गार ब्रह्माकुमारी माउं ट आबू के बी के भगवान ् भाई ने कहा नैततक मल् ू यों का महत्व ववषय ऩर बोऱते हुए कहा उन्द्होंने कहा की नैततक मल् ू यों से व्यस्क्तत्व में तनखार, व्यवहार में सध ु ार आता है।नैततक मल् ू यों का ह्रास व्यस्क्तगत, सामास्जक, राष्ट्रीय समस्या का मऱ ू कारण है। समाज सुधार के सऱए नैततक मूल्य जरूरी है ।उन्द्होंने कहा कक नैततक सशऺा की धारणा से, आंतररक सशक्तीकरण से इच्छाओं को कम कर भौततकवाद की आंधी से बचा जा सकता है । व्यस्क्त का आचरण उसकी जुबान से ज्यादा तेज बोऱता है । ऱोग जो कुछ आंख से दे खते हैं। उसी की नकऱ करते हैं।


हमारे जीवन में श्रेष्ट्ठ मू ्््ल्य है तो दस ू रे उससे रमाणणत होते हैं।जीवन में नैततक मल् ू य होंगे तो आदमी ऱाऱच, हहंसा, झूठ, कऩट का ववरोध करे गा और समाज में ऩररवतयन आएगा। उन्द्होंने कहा नैततकता से मनोबऱ कम होता है। मल् ू यों की सशऺा से ही हम जीवन में ववऩरीत ऩररस्स्थतत का सामना कर सकते हैं। जब तक हम अऩने जीवन में मल् ू यों और राथसमकता का तनधायरण नहीं करें गे, अऩने सऱए आचार संहहता नहीं बनाएंगे तब तक हम चुनौततयों का मुकाबऱा नहीं कर सकते। चररत्र उत्थान और आंतररक शस्क्तयों के ववकास के सऱए आचार संहहता जरूरी है । उन्द्होंने्े अंत में नैततक मल् ू यों का स्रोत आध्यसमत्कता को बताया। जब तक आध्यास्त्मकता को नहीं अऩनाएंगे जीवन में मूल्यों की धारणा संभव नहीं है ।

राहता (महाराष्ट्र )— शारदा संकुल में नैतिक मूल्य पर कार्यक्रम  
राहता (महाराष्ट्र )— शारदा संकुल में नैतिक मूल्य पर कार्यक्रम  
Advertisement