Page 1

असंध (हरयमाणा )---जे. ऩी. एस. ऩब्लरक स्कूर भें नैतिक भल् ू मों का जीवन भहत्त्व ऩय कामयक्रभ आमोजक –स्थानीम ब्रह्भाकुभायी

सेवाकेंद्र असंध

(हरयमाणा ) भख् ु म वक्िा ---ब्रह्भकुभाय बगवान ् बाई भाउं ट आफू ववषम –- नैतिक भल् ू मों का जीवन भें भहत्व प्राचामय – श्री भोहन फी के उषा

ससंह

फहन स्थानीम ब्रह्भाकुभायी असंध

(हरयमाणा ) फी के िेजस बाई ,ववजम शभाय,भहावीय बाई औय सबी सशऺक स्टाप बी उऩब्स्थि थे कामयक्रभ के अंि भें याजमोग का अभ्मास कयामा गमा बी के भगवान ् भाई ने कहा कक भौतिक शिऺा से हम रोजगार प्राप्ि कर सकिे हैं, ऱेककन ऩररवार, समाज, काययस्थऱ में ऩरे िानी या चुनौिी का मक ु ाबऱा नह ीं कर सकिे।उन्होंने कहा की

नैतिक मल् ू यों से व्यक्तित्व में


तनखार, व्यवहार में सध ु ार आिा है ।नैतिक मल् ू यों का ह्रास व्यक्तिगि, सामाक्जक, राष्ट्र य समस्या का मूऱ कारण है । समाज सुधार के शऱए नैतिक मूल्य जरूर है ।उन्होंने कहा कक नैतिक शिऺा की धारणा से, आींिररक सितिीकरण से इच्छाओीं को कम कर भौतिकवाद की आींधी से बचा जा सकिा है । व्यक्ति का आचरण उसकी जुबान से ज्यादा िेज बोऱिा है । ऱोग जो कुछ आींख से दे खिे हैं। उसी की नकऱ करिे हैं।

भगवान ् भाई ने कहा कक हमारे जीवन में श्रेष्ट्ठ मू ्््ल्य है िो दस ू रे उससे प्रमाणणि होिे हैं।जीवन में नैतिक मूल्य होंगे िो आदमी ऱाऱच, हहींसा, झूठ, कऩट का ववरोध करे गा और समाज में ऩररवियन आएगा। उन्होंने कहा नैतिकिा से मनोबऱ कम होिा है। मल् ू यों की शिऺा से ह हम जीवन में ववऩर ि ऩररक्स्थति का सामना कर


सकिे हैं। जब िक हम अऩने जीवन में मल् ू यों और प्राथशमकिा का तनधायरण नह ीं करें गे, अऩने शऱए आचार सींहहिा नह ीं बनाएींगे िब िक हम चुनौतियों का मुकाबऱा नह ीं कर सकिे। चररत्र उत्थान और आींिररक िक्तियों के ववकास के शऱए आचार सींहहिा जरूर है । उन्होंने्े अींि में नैतिक मल् ू यों का स्रोि आध्यशमत्किा को बिाया। जब िक आध्याक्त्मकिा को नह ीं अऩनाएींगे जीवन में मूल्यों की धारणा सींभव नह ीं है । एस मोके ऩर असींध सेवाकेंद्र कक इींचाजय बी के उषा बहन ने कहा के वियमान में बच्चो को अच्छे सींस्कार कक आवश्यकिा है उन्होंने बिाया कक सींस्काररि बच्चे दे ि कक सच्ची सम्ऩति है

असंध (हरियाणा ) जे पी एस पब्लिक स्कूल में नैतिक मूल्यों का जीवन महत्त्व पर कार्यक्रम  
असंध (हरियाणा ) जे पी एस पब्लिक स्कूल में नैतिक मूल्यों का जीवन महत्त्व पर कार्यक्रम  
Advertisement