Issuu on Google+

होमी भाभा ििजान ििका केनद टाटा मूलभूत अनुसंधान संसथान (नाििकीय ििजान तथा गिित का िारत सरकार का राषटरीय के नद)

िी. एन. पुरि मागग, मानखुदग, मुंबई-400 088

फोन : 91-22-25580036,

वेबसाइट :www.hbcse.tifr.res.in

फै कस: 91-22-25566803

ई-मेल :hcp@hbcse.tifr.res.in

पो. एच. सी. पधान के नद िनदेशक

िदनांक-

23

अगसत,

2010

-:सूचना:होमी भाभा िवजान िशका के नद (टीआईएफआर) दारा आगामी 14 िसतमबर 2010 को 'िहनदी िदवस' मनाया जाएगा। िवगत वषोो की तरह इस वषष भी कई सपधाषओं का आयोजन

िकया

जा

रहा

है।

िनबनध-लेखन,

सामानय

िहनदी-जान,

तथा

शुतलेखन

पितयोिगताएँ कमश: 7, 8 तथा 9 िसतमबर 2010 को आयोिजत होगी। कावयपाठ तथा

आशुभाषण

सपधाषओं का

िसतमबर 2010 को के नद के

आयोजन

िहनदी िदवस

समारोह

के

िदन

अथाषत

सभागृह मे होगा। उपरोकत पितयोिगताओं के

14

िवजेता

पितभािगयो को पमाण-पत तथा नकद पुरसकार पदान िकए जायेगे। इन पितसपधाषओं मे होमी

भाभा

के नद

के

समसत

कमषचारीगण

(िनयिमत,

अंशकािलक

या

संिवदा

पर

कायषरत) भाग ले सकते है। पितयोिगताओं मे भाग लेने के इचछुक पितभागी कृ पया

शीमती वी. एन. पुरोिहत, िहनदी संपकष अिधकारी के पास अपना नाम नोट करा दे। आशा है, होमी भाभा के नद के कमषचारीगण िहनदी िदवस कायषकम मे पूरे उतसाह से भाग लेगे। िवसतृत िववरण साथ मे संलगन है।

(पो. एच. सी. पधान) अधयक राजिाषा कायाानियन सििित


पितयोिगता-िववरण हर पितयोिगता मे पुरसकारो की दो शेिणयां बनायी गयी है। 1) िहनदी िगग, इसमे वे पितभागी होगे िजनकी मातृभाषा िहनदी है तथा 2) िहनदीतर िगग, इसमे वे पितभागी होगे िजनकी मातृभाषा िहनदी न होकर कोई अनय भारतीय भाषा है। िनबनध लेखन पितयोिगता पथम पुरसकार

1000 र.

तृतीय पुरसकार

500 र.

िदतीय पुरसकार

750 र.

सामानय िहनदी जान पितयोिगता पथम पुरसकार

500 र.

तृतीय पुरसकार

300 र.

िदतीय पुरसकार

400 र.

शुतलेखन पितयोिगता पथम पुरसकार

500 र.

तृतीय पुरसकार

300 र.

िदतीय पुरसकार

400 र.

आिुभाषण पितयोिगता पथम पुरसकार

500 र.

तृतीय पुरसकार

300 र.

िदतीय पुरसकार

400 र.

कावयपाठ पितयोिगता पथम पुरसकार

500 र.

तृतीय पुरसकार

300 र.

िदतीय पुरसकार

400 र.

नोट : पितिािगयो की संखया को देखते हुए पितसपधाा के हर िगा िे पोतसाहन पुरसकार िी िदए जा सकते है।


िनबंध के ििषय 1. िशका के अिधकार का कानून 2. हमारा पयाषवरण: हमारा दाियतव 3. समाचार माधयमो मे िहनदी 4. परमाणु ऊजाष के शांितमय उपयोग -------


Hindi Diwas 2010