Issuu on Google+

www.facebook.com/hpc.bitspilani http://hpc.bits-student.org/

चतुर्थ अंक

सोमवार , 17 ससतम्बर

स्पर्धा बॉसम स ंदी प्रेस प्रस्ततु त

अंदय दे खिए हॉकी पुटफॉर क्रिकेट

गुरुकुर नाईट: ध्वनन टे ननस

स्क्वॉश फैडमभंटन वेटमरफ्टं ग फास्ककेटफॉर वॉरीफॉर ऩदक तामरका संऩादक की करभ से

फॉसभ से जुड़ी सबी खफयों को जानें @ http://hpc.bits-student.org/bosm.html छामाचित्र सौजन्म : पोटोग्रापी क्रफ


अॊक 4 :ऩष्ृ ठ 2

हॉकी 16 ससतम्फय का ददन बफट्स हॉकी टीभ के सरए ननयाशाजनक यहा| बफट्स का प्रदशशन अऩेऺा से कापी ख़याफ यहा औय टीभ अऩने 4 भैिों भें एक बी गोर कयने भें काभमाफ नही हुई | SRCC तथा JNVU, दोनों ने बफट्स को 2-0 से भात दी | भुकाफरों भें बफट्स के डडपेंडसश ने अच्छा प्रदशशन ककमा ऩय अचग्रभ खखराडड़मों के रिय प्रदशशन के िरते टीभ ने कई फेहतयीन भौके गॊवाएॉ| इसी के साथ बफट्स की ऩदक के भुकाफरों भें िुनौती ख़त्भ हो गई | कर SRCC औय TIT&S के फीि बी हॉकी भैि खेरा गमा| TIT&S ने ऩहरे ही हाप भें तीन गोर कयके रगबग अजेम फढ़त फना री | ऩेनल्टी कॉनशय भें रगाताय िूकों के िरते SRCC अऩना खाता खोरने भें नाकाभ यहा| इसी के साथ TIT&S ने SRCC को 3-0 के बायी अॊतय से यौंद डारा |

पुटफॉर

बफट्स कैम्ऩस के फाहय के आमोजन स्थर बफयरा ऩब्लरक स्कूर के भैदान भें कर शाभ 5.15 फजे फॉसभ के फुटफॉर टूनाशभेंट

का फाइनर खेरा गमा| भैदान भें खेर शरू ु होने के कापी सभम ऩहरे से ही टीभों को वाभशअऩ कयते हुए दे खा जा सकता था| सेंट जेववमसश कॉरेज, कोरकाता एवॊ आय.ऐ.आई.टी., भफ ुॊ ई के खखराडड़मों भें जीत के सरए उत्साह बया हुआ था| भैि के

शुरुआती 15 सभनटों भें ही सेंट जेववमसश टीभ के मोहान ने गोर दाग के जेववमसश को 1-0 कक फढ़त ददरा दी| भैदान भें जेववमसश की टीभ के खखराडड़मों का आऩसी तारभेर उनकी ऩाससॊग औय आऩसी उत्साहवधशन के भाध्मभ से साफ-साफ दे खा जा सकता था|

कुछ ही दे य भें जेववमसश की ओय से उच्छम ने एक औय गोर दाग कय आॉकड़ो को 2-0 ऩय रा खड़ा ककमा| दस ू ये गोर के फाद जेववमसश की टीभ ने यऺण कयने ऩय ध्मान दे ना शुरू ककमा , ऩयन्तु अगरे हॉप भें आय.ऐ.आई.टी. की तयप से सुजन ने शानदाय प्रदशशन कयते हुए गोर दागा औय आय.ऐ.आई.टी. की टीभ को आशा की ककयण दी| अफ स्कोय 2-1 था , ऩयन्तु जेववमसश टीभ ने ऩूयी भेहनत कयते हुए इस स्कोय को 2-1 ऩय ही योक ददमा औय फुटफॉर टूनाशभेंट के फाइनर ऩय अऩनी जीत दजश की|

क्रिकेट

भेड-सी. भें यवववाय को बफट्स औय SGGSCC,DU के फीि खेरे गमे किकेट भक ु ाफरे भें भेहभान टीभ ने आददत्म सैनी के हयपनभौरा प्रदशशन की फदौरत भेजफान को 8 ववकेट से यौंद ददमा| बफट्स टीभ ने ऩहरे फल्रेफाजी कयते हुए खखराडड़मों आनॊद (23यन) औय वरुण(23यन) की भदद से 118 यन का स्कोय खड़ा ककमा| जवाफ भें भेहभान टीभ ने आददत्म सैनी(53यन) के शानदाय अर्द्शशतक की फदौरत भहज दो ववकेट खोकय 16.3 ओवय भें रक्ष्म हाससर कय सरमा| ऩयनप्रीत ने 36यन का मोगदान दे कय आददत्म का अच्छा साथ ददमा| भैि बफल्कुर एकतयफा था, भेजफान टीभ हय ऺेत्र भें फैकपुट ऩय यही| ऩूये भैि के दौयान कबी बी भेजफान जीतते हुए नहीॊ प्रतीत हुए|


अॊक 4 :ऩष्ृ ठ 3

गुरुकुर नाईट: ध्वनन कर शाभ ऑडी सुयीरी आवाजों से गॉज ू उठा | रोग झूभ यहे थे औय तासरमाॉ थभने का नाभ नहीॊ रे यही थीॊ | अवसय था “गुरुकुर नाईट- ध्वनन” का | हषश औय सशउरी ने खद ु ा जानें के भीठे सुयों के साथ सभायोह का आयम्ब ककमा | ऩहरी ऩेशकश ने ही श्रोताओॊ का भन भोह सरमा | उसके फाद तो धुआध ॊ ाय प्रस्तुनतमों की रड़ी सी रग गमी | अबी-अबी, ऩये शान, कच्िे धागे, ओ हभ दभ, वऩमा ये वऩमाये , फायी-फायी, झूभ फयाफय झूभ आदद गीत श्रोताओॊ के भन को छू गए | कानतशक द्वाया गाए हुए गीतों ने तो भहकफर भें िाय िाॉद रगा ददए | उनके भधुय गीतों ने खफ ू वाह वाही फटोयी औय वहाॉ उऩब्स्थत बीड़ को बाव-ववबोय कय ददमा | औय-तो-औय फेहद खूफसूयत शलदों से वऩयोए गए फॉसभ थीभ सौंग ने रोगों के भन भें जोश औय उत्साह बय ददमा | दहॊदी व अॊग्रेजी शलदों के सभश्रण मक् ु त इस कणशवप्रम गीत ने खेर बावना को सवोऩरय यखते हुए ववजमी होने की काभना का साज छे ड़ा | इसके फावजूद कई गीतों भें मॊत्रों का तारभेर गड़फड़ामा सा रगा औय तैमायी बी अधूयी भहसस ू हुई | नाईट का अॊत ‘भुझे सभर तो जाए थोड़ा ऩैसा’ गीत से हुआ | भस्ती औय उत्साह से बये इस िुरफुरे गीत ने श्रोताओॊ का खूफ भनोयॊ जन ककमा | गुरुकुर के प्रदशशन से अचधकतय रोग सॊतुष्ट यहे |

टे ननस

16 ससतम्फय की ताजगी बयी सुफह का प्रायॊ ब टे ननस की स्पूनतश से हुआ| टे ननस गें द की गड़गड़ाहट ने कोमर की आवाज को पीका कय ददमा| प्रथभ भुक़ाफरे भें बफट्स-ए ने बफट्स-फी को दो सेट भें 7-3, 9-6 से भात दी| बफट्स-ए ने शरु ु आत से ही अऩना दफदफा कामभ यखा था| ववजेता टीभ ने इस अनुबव को सुनहया फताते हुए फॉसभ की सयाहना की| उनके अनुसाय इस वषश सायी स्ऩधाशएॉ अत्मॊत सॊघषशऩूणश यहीॊ|

दस ू यी ओय आई.ऩी.एस. औय एन.आई.टी.-जरॊधय के फीि काॉटे की टक्कय हुई| हाराॉकक प्रथभ सेट भे आई.ऩी.एस. को 7 -9 से हार का सामना करना पड़ा, ककन्तु अगरे दो सेट भें वाऩसी कयते हुए 9-1, 9-2 से शानदाय जीत प्राप्त की| भदहरा टे ननस भुक़ाफरा एक तयफा सा नजय आमा, ब्जसभें जे.एभ.सी. ने बफट्स-ए को 8-0, 8-0 से ऩयाब्जत ककमा|

बफट्ससमन्स के उल्रास का केंद्र यहा जे.एभ.सी. की फॊददमों औय बफट्स के फॊदों का भैि ब्जसभें नायी शब्क्त को जादहय

कयते हुए जे.एभ.सी. गल्सश ने 8-6 से जीत हाससर कय दशशकों को सॊगदठत कयने भें सपरता प्राप्त की| बफट्स टीभ के अनुसाय जे.एभ.सी. गल्सश द्वाया ककए जा यहे शोय-शयाफे से उनका ध्मान केब्न्द्रत नहीॊ हो ऩामा| हाराॉकक वे रोग बफट्ससमन खखराड़ी के सरए ही चिमरयॊग कय यहीॊ थी|

अॊत भें मह कहा जा सकता है कक टे ननस का ददन आज कापी भस्ती तथा उत्साह बया यहा, जहाॉ भदहरा शब्क्त

जागरूकता का केंद्र यही|

स्क्वॉश

SAC भें कर बफट्स-ए एवॊ बफट्स-फी का खेर सवेये दस फजे खेरा जाना था ककन्हीॊ कायणों से इस भैि को शाभ 5 फजे तक स्थचगत ककमा गमा औय 5 फजे खेरे जाने वारे खेर को सवेये के सत्र भें आमोब्जत ककमा|

MMEC औय IITD के खेर भें MMEC ने शुरूआती कुछ सभनटों भें ही अऩने प्रनतद्वॊद्वी ऩय दफाव फनाने की यणनीनत को

सपरताऩूवक श रागू ककमा औय ऎसी ब्स्थनत भें हभ कहें कक IITD के खखराड़ी के ऩसीने छूटे तो अिम्बे की फात नहीॊ होगी|

बफट्स-ए (प्राॊकुय) औय बफट्स-फी (अगभ) के भैि भें कई योिक भोड़ आमे औय दो ही सेट्स भें अगभ ने जीत हाससर कय री| प्राॊकुय भुस्कुयाते हुए फाहय आए औय अऩने प्रनतद्वॊद्वी-सह-सभत्र को फधाई दी|


अॊक 4 :ऩष्ृ ठ 4

फैडमभन्टन

फैडसभन्टन के आज के भक ु ाफरों भें दशशकों को असीसभत योभाॊि का अनुबव हुआ| रड़कों के नॉकआउट भुकाफरों भें जहाॉ बफट्स ने एक ओय योभाॊिक क्वाटश यफाइनर जीता वहीॊ दस ू यी ओय सेभीफाइनर भें एकतयफा हाय का साभना कयना बी ऩड़ा|

बफट्स का क्वाटश यफाइनर भें भुकाफरा एभ.आय.सी.ई. के साथ था ब्जसे बफट्स ने 2-1 से जीता| दस ू या क्वाटयपाइनर आई.ऩी.एस. औय एस.आय.एभ. के फीि खेरा गमा ब्जसभें एस.आय.एभ. ने फाजी भायी| वहीीँ सेभीफाइनर के भुकाफरे भें बफट्स को

0-2 के अन्तय के साथ कयायी हाय का साभना कयना ऩड़ा| आज के भक ु ाफरों भें दशशकों की तादाद ने खखराडड़मों

का उत्साह फढ़ाने भें कोई कसय नहीॊ छोड़ी|

जहाॉ एक तयप ऩुरुषों के क्वाटय पाइनर भें बफट्स औय एभ.आय.सी.ई. के फीि कटोकटी का भक़ ु ाफरा िर यहा था, वहीॊ दस ू यी ओय भदहराओॊ के सेभी-फाइनर भें ऐसा रग यहा था भानो भजाक िर यहा हो| बफट्स औय जेववमसश के फीि हो यहे भैि भें मह हारत थी कक जेववमसश शटर-कॉक को कोटश की दस ू यी तयप बी नहीॊ ऩहुॉिा ऩा यही थीॊ| बफट्स को फहुत सयरताऩूवक श जीत प्राप्त हुई| कपय पाइनल्स भें बफट्स-ए ने फड़ी आसानी से बफट्स-फी को हया ददमा|

वेटमरफ्टं ग

SAC के हॉर भें कर सफ ु ह शरू ु हुई वेटसरब््टॊ ग प्रनतमोचगता ने सफकी उम्भीदों से कहीॊ ऊऩय उठकय दशशकों का भनोयॊ जन ककमा| ऩूयी प्रनतमोचगता भें ऐसा रग यहा था भानों दो ही खखराड़ी सि भें ऩदक के सरए रड़ यहे हों| IITD से अऺम औय बफट्स से अखखर ���ैन हय दज ू े प्रमास भें एक दस ू ये को ऩछाड़ यहे थे| अऺम जैन ने ये फ्री के एक ननणशम ऩय योष व्मक्त बी ककमा ब्जसभें उनका साथ अन्म कॉरेज के खखराडड़मों ने बी ददमा ऩयन्तु कहाॉ भानने वारे थे जजभान|

ऩूयी प्रनतमोचगता का आमोजन सपर यहा औय सबी प्रनतमोचगमों ने खेर व्मवस्था औय ऩरयवेश की खुरकय तायीफ की (अॊतत् कोई तो खश ु यहा अऩने खेर के आमोजन से :P)

वॉरीफॉर

ददनबय की चिरचिराती धूऩ औय गभी के फाद शाभ की ठॊ डी-धीभी हवाओॊ के फीि शरू ु

हुआ भदहरा वॉरीफार का ऩहरा सेभीफाइनर| आई.ऩी.एस. इॊदौय औय फी.आय.सी.एभ के फीि के सेभीपाईनर की शरु ु आत कापी योभाॊिक हुई| ऩहरा सेट फी.आय.सी.एभ की टीभ ने 25-23 से जीता| मे याउॊ ड कापी योभाॊिक यहा औय अॊत तक ववजेता का अनुभान रगा ऩाना भुब्ककर था| ऩहरे सेट के फाद दस ू या सेट आई.ऩी.एस. के खाते भें गमा| दस ू ये सेट भें आई.ऩी.एस. ने फी.आय.सी.एभ को 25-15

से हयामा| तीसया सेट योभाॊिक होने की उम्भीद की जा यही थी ऩयन्तु आई.ऩी.एस. ने

अद्भत ु खेर ददखाते हुए फी.आय.सी.एभ की टीभ को 25-7 से यौंदकय पाईनर भें अऩनी जगह ऩक्की की| भैि के फाद ववजेता टीभ की कप्तान दहभानी से हुई फातिीत भें वे अऩने टीभ के प्रदशशन से खुश नजय आमी|

उन्होंनें

कहा कक वे अऩनी टीभ ऩय ऩूया बयोसा कयती हैं औय उन्हें आत्भववकवास था कक उनकी टीभ ऩहरा

सेट हायने के फावजूद बी भैि जीत सकती है | वहीीँ ववऩऺी टीभ की कप्तान ने हाय स्वीकायते हुए ख़याफ खेर औय कोि की अनुऩब्स्थनत को हाय का भुख्म कायण फतामा|

दस ू या सेभीफाइनर आज ही यात भें जे.एभ.म.ू औय बफट्स की टीभों के फीि खेरा जाएगा| उम्भीद है कक बफट्स की टीभ अच्छा प्रदशशन कय पाईनर भें अऩना स्थान सयु क्षऺत कये गी|


अॊक 4 :ऩष्ृ ठ 5

फास्ककेटफॉर

फास्केटफॉर के अॊनतभ ियण भें एक ओय रड़कों की टीभों के फीि काॊटे की टक्कय हुई तो दस ू यी ओय गल्सश भें बफट्स व जे.एभ.सी. तथा एस.आय.सी.सी. व सेंट जेववमसश के फीि हुए एक तयफा भक ु ाफरे ने दशशकों को भामस ू ककमा| कई भहीनों से िर यहे अऩने अभ्मास के सकायात्भक

ऩरयणाभ ददखाते हुए एस.आय.सी.सी. ने आसाधायण जीत दजश की| उसी तयह बफट्स व जे.एभ.सी. के फीि भें हुए भुकाफरे भें जे.एभ.सी. बफना ऩये शाननमों के आसानी से ही ववजमी फना| बफट्स गल्सश भें अभ्मास की कभी साफ झरक यही थी| खारी भैदान भें बी वे फास्केट कयने भें असभथश

ददखाई ऩड़ीॊ| वहीॊ दस ू यी ओय रड़कों ने भैि जीतने के सरए एड़ी िोटी का जोय रगामा| एस.आय.सी.सी.

एन.एर.मु.

तथा

बफट्स

आई.आई.टी. ददल्री के फीि हुए योभाॊिक भक ु ाफरे ने असॊतष्ु ट दशशकों भें कपय उत्साह बय ददमा| ऩय अॊत भें

कयना ऩड़ा|

बफट्स रड़कों की टीभ को हाय का साभना

एस.आय.सी.सी.(ववजेता) टीभ की कप्तान आमाश िौहान से हुए साऺत्काय भें उन्होंने कहा कक उन्हें अऩनी टीभ ऩय गवश है | आखखयकाय उनकी टीभ की भेहनत

यॊ ग राई| बफट्स भें अऩने अनब ु व के फाये भें फताते हुए उन्होंने कहा कक उन्हें महाॉ रड़कों व रड़ककमों भें बेदबाव नजय आमा| एक ओय जहाॉ रड़कों की टीभ कक

इनाभ यासश 10000 है | वहीॊ दस ू यी ओय कई फाय इनाभी यासश को फढ़ाने की गुहाय के फावजूद गल्सश टीभ को इनाभ स्वरूऩ 6600 रुऩमे ही सभरते हैं | उनके अनुसाय महाॉ बफट्स की अऩेऺा अन्म कॉरेजों को असभान दजाश ददमा जाता है |

पदक तधलिकध स्कथान कॉरेज

स्कवर्ण

यजत

कांस्कम कुर ऩदक

1

बफट्स वऩरानी

6

14

13

33

2

एस.आय.सी.सी.

4

0

2

6

3

फी .के.फी.आई.ई.टी.

3

3

1

7

4

एप.वाई.एर.सी.

2

1

0

3

5

भहायानी

2

0

0

2

6

जे.एभ.सी.

1

2

1

4

7

आय.ए.आई.टी.

1

2

0

3

8

टी.आई.टी.&एस.

1

1

3

5

9

डी.सी.ए.सी.

1

1

1

3

10

फी.आय.सी.एभ.

1

1

1

3


अॊक 4 :ऩष्ृ ठ 6

संऩादक के करभ से || रोग प्रकन उठाते यहे -“कहाॉ होगा फॉसभ, कैम्ऩस तो फीभाय हारत भें है ?” सप्ताह बय ऩहरे से कानों तक कुछ आवाजें

अनामास ऩहुॉिाने रगीॊ-“हो िुका फॉसभ............कौन आएगा?..जो आएगा, वो ऩछताएगा.....|” औय फयसात द्वाया फॉसभ का

स्वागत ककए जाने के फाद तो आशॊकाओॊ का भानो दौय ही िर ऩड़ा| ऩय इस खुदे हुए प्राॊगण से, वषाश द्वाया पैराई गई अव्मवस्था से, फी.ऩी.एस.-सशशु ववहाय-ब्जभजी-सैक औय भेड-सी ग्राउॊ ड के फीि की दरू यमों से फॉसभ 2k12 जीतता ही गमा| हय फाय की तयह इस फाय बी कुछ खखराडड़मों ने अऩने नाभ की गॉज ू आसभान तक ऊॉिी उठती भहसस ू की(फास्केटफार) तो

कुछ को दशशकों की अनदे खी का भरार यहा(हॉकी); कई भेहभान खखराड़ी कैम्ऩस की असवु वधाओॊ से है यान-ऩये शान नजय आए तो कुछ तो अऩने खेर के साथ-साथ झॊकाय, िैक, इन्पॉभशल्ज आदद के भस्ती बये इवेंट्स भें दहस्सा रेते यहे औय उन्होंने

असुववधाओॊ के फोझ को भस्ती के भाहौर भें फेदभ कय ददमा| सेंटी-सेभाइट्स की टोसरमाॉ बी इन इवें ट्स भें खूफ दे खने को सभरीॊ| कुछ फड़े ही योिक भैि हुए तो कुछ का अॊजाभ भैि की शुरुआत भें ही सभझ भें आ गमा| खैय इस तयह के आमोजनों की खाससमत है कक मे हभें हभेशा के सरए न बर ु ाई जा सकने वारी मादें दे जाते हैं

औय जफ हभ कुछ ददन फाद “डोऩी” द्वाया बेजी गई तस्वीयें दे खते हैं तो हभाये भानस-ऩटर ऩय अॊककत वे गुजाये गए ऩर उबय आते हैं औय हभ इन मादों भें खो से जाते हैं| दस ू या व अचधक भहत्त्वऩूणश बफॊद ु मह है कक इन आमोजनों भें हभ अऩने

सभत्रों के सहमोग के साथ-साथ ककसी खेर आदद भें जीत की ख़श ु ी को फाॊटना सीखते हैं; हभ सीखते हैं “हाय को सहना औय अऩनी कभजोरयमों को जानना” ब्जससे कक ब्जॊदगी की रड़ाई भें हभ औय भजफूत होकय आगे फढ़ सकें|

ककसी बी आमोजन भें सफ-कुछ बफरकुर कुशरता से नहीॊ होता क्मोंकक “आदशश की ब्स्थनत” एक काल्ऩननकता है|

छोटी-भोटी भनभट ु ाव की घटनाएॉ तो होती ही हैं ऩय ववकवास भाननए कई फाय कष्टदामक रगने वारे कुछ ऩर शेष ब्जॊदगी

के सरए भजाक औय खुशी के कई गुना ज्मादा ऩरों भें तलदीर हो जाते हैं| आशा है कक ब्जस ककसी को अबी ऐसा कुछ भहसूस हो यहा है , वे सबी कुछ सभम फाद इन घटनाओॊ को माद कय ठहाके रगा यहे होंगे|

ऩय साचथमों “वऩक्िय अबी फाकी है ”| हभाया सभाज, हभाये भाता-वऩता औय शामद हभ सबी बी ‘ऩरयणाभ’ को प्रमास,

भल् ू माॊकन-प्रणारी एवॊ ऩयीऺा आदद की अनक ु ू रताओॊ-प्रनतकूरताओॊ से ऊऩय आॊकने की एक स्वाबाववक प्रवब्ृ त्त यखते हैं| आज फॉसभ का िौथा ददन ज्मादातय खेरों के ऩरयणाभों का ददन है औय मे ददन है सॊबवत् सवशश्रेष्ठ टीभों के फीि के योभाॊिक भैिों का| आज का ददन है “सभाऩन सभायोह” का| ब्जन्दगी के खेर भें जीत की आशा को प्रफर कयने वारे इस कामशिभ भें उऩब्स्थत होना हभाये सरए हय प्रकाय से राबप्रद ही है औय उम्भीद है की ज़्मादातय रोग इसभें सब्म्भसरत होकय अऩनी फॉसभ 2k12 की मादों को एक वहृ द् व व्मवब्स्थत रूऩ दें गे|

हहन्दी प्रेस ऩरयवाय

क्रकशन, सयु मब | समु भत, अनज ा, ननशां क , योहहत, मसद्ांत, ननतीश, धनंजम, नेहा | ु वैबव, सोभजी, ईशान, शमशन, नीनत, श्रेम, अंशुर, भाधव, यजत, सुचिता, संवेदा |

अबम, आनतप, अनंत,अननरुद् अग्रवार, अननरुद् मभश्र, याजेश, ऩायस, सोनारी, करयश्भा, पऩमूष, यपव, नीनतका, भॉननका, िश ु फू , आहदत्म, अखिरेश , हदवमांशु

अचिणत , अहदनत, प्रर्म, आकृनत, यजत, अंक्रकता, मश,

|

इराश्री , सुमश, यवीना,

दे वेन्र, सत्मभ, प्रांजर, प्रवीन , ननकेश |


Spardha:17 September