Page 1

आऩ इस ऩेज ऩय अऩने विऻाऩन प्रकानित कय सकते हैं | विद्यारमों एिॊ विनबन्न आमु िगों के

छाि िानभर हैं |

इस

हभाये ऩाठकों भें बायत के विनबन्न

ऩेज

ऩय

विऻाऩन

प्रकानित

कयने हे तु हभाया ई भेर है - kunhanlogam@gmail.com सॊस्थाऩक एिॊ प्रकािक अब्दर ु कयीभ थत्तोरी, एभ ्. एस. सी., एभ ्. हपर., ऩी. एच. डी. कोंगुनाडू करा एिॊ विऻान भहाविद्यारम, कोमम्फतूय भुख्म सॊऩादक

नन्ही दनु नमा (हहन्दी) : डा. आमुष खये , एभ ्. एस. सी., ऩी. एच. डी., एन. आई. टी., यामऩुय नन्नुरागभ (तनभर): डा. के. भुथुकुभाय, एभ ्. ए., एभ ्. हपर., ऩी. एच. डी., कोंगुनाडू करा एिॊ विऻान भहाविद्यारम, कोमम्फतूय

कुन्हान रोगभ (भरमारभ) एिॊ नेनो उरगभ (अॊग्रेजी): अब्दर ु कयीभ थत्तोरी, एभ ्. एस. सी., एभ ्. हपर., ऩी. एच. डी.,

नन्ही दनु नमा विद्यानथिमों के नरए नैनो विऻान की प्रथभ हहॊ दी ऩविका अॊक २ जून २०११

छोटी िस्तुओॊ की फड़ी दनु नमा

कोंगुनाडू करा एिॊ विऻान भहाविद्यारम, कोमम्फतूय सराहकाय भॊडर

डॉ.प्रिीण सी. याभभूनति , एभ ्. एस. सी., ऩी. एच. डी. (आई. आई. एस. सी. फॊगरौय) डॉ. एभ ्. ए. िाह, एभ ्. एस. सी., ऩी. एच. डी., कजाहकस्तान

डॉ. हदनेि के. िभाि, एभ ्. एस. सी., एभ ्. टे क., ऩी. एच. डी., जे. एन. मू. नई हदल्री डा .फी .चन्र िेखय ,एभ ्.एस.सी ,.एभ ् .हपर ,.ऩी .एच .डी., कोंगुनाडू करा एिॊ विऻान भहाविद्यारम, कोमम्फतूय सॊऩादक भॊडर

भथेस्ियण, एभ ्. एस. सी., एभ ्. हपर., ऩी. एच. डी.

कोंगुनाडू करा एिॊ विऻान भहाविद्यारम, कोमम्फतूय

कु. भहे श्वयी, एभ ्. एस. सी., एभ ्. हपर., ऩी. एच. डी. कोंगुनाडू करा एिॊ विऻान भहाविद्यारम, कोमम्फतूय सजेि ऩी. जी., एभ ्.एस.सी., फी. एड. एभ ्. एड., ऩॊग िासकीम हामय सेकॊडयी विद्यारम

असय अहभद, एभ ्. एस. सी., ऩी. एच. डी, आई आई टी कानऩुय

ऩॊकज कुभाय गौतभ, एभ ्. एस. सी., ऩी. एच. डी., उत्तय भहायाष्ड विश्वविद्यारम , भहायाष्ड विषम वििेषऻ

डा .सेंनथर अयासु ,एभ ्.एस.सी ,.एभ ् .हपर ,.ऩी .एच .डी( .मू .के). कानूनी सराहकाय

श्री फी .सुगुभायन, फी.एस .सी ,.एर .एर .फी) .अनधिक्ता( रे आउट एिॊ हडजाइन :

अब्दर ु कयीभ थत्तोरी , एभ ्.एस.सी., एभ ्. हपर., ऩी. एच. डी., डा. आय. सॊथाना कृ ष्णन, एभ ्.एस.सी., ऩी. एच. डी. औय फल्कीस के., फी. टे क. एभ ्. फी. ए.

विषम िस्तु सॊऩादक - अब्दर ु कयीभ थत्तोरी , एभ ्.एस.सी., एभ ्. हपर., ऩी. एच. डी.

घय एिॊ विद्यारमों भें भुफ्त ऩविका हे तु kunhanlogam@gmail.com ऩय अऩना ऩता ऩॊजीमन कयाएॉ |

प्रकृ नत की अऩनी नेनो तकनीक


प्रकृ नत की अऩनी नेनो तकनीक अगय भेये ऩास नेनो ऩैय हों तो भें बी स्ऩाइडय भेन फन सकता हूॉ.

Setae वप्रम फच्चो क्मा तुभ जानते हो की ऩहरा नेनो विऻानी कौन है ? जिाफ है - प्रकृ नत, जजसने प्रोटीन एिॊ अन्म नेनो ऩदाथों का ननभािण हकमा है जो हभाये ियीय की विनबन्न प्रहिमाओॊ को ननमॊवित कयते हैं | उदाहयण के नरए हभाये ियीय भें ओजक्सजन ऩॊहुचाने िारे हीभोग्रोवफन भें रार यक्त कजणकाओॊ का आकाय ५ नेनो भीटय की कोहट का होता है | नए नेनो ऩदाथि एिॊ नेनो उऩकयण फनाने के नरए हभ प्रकृ नत का ही ऩारन कयते हैं | प्रकृ नत ने फहुत साये नेनो ऩदाथि फनामे हैं

जफ हभ प्रकाि, िामु, जर तथा अन्म ऩदाथों के सॊऩकि भें आते हैं तो हभ इन प्राकृ नतक नेनो ऩदाथों के फाये भें जानते हैं | इन का ननभािण सैकड़ों अणुओॊ को ननजद्ळत िभ भें व्मिजस्थत कयने से होता है जो १-१०० नेनो भीटय तक हो सकता है | प्राकृ नतक नेनो तकनीक के कायण ही नछऩकरी गुरुत्ि के विरुद्ध दीिाय ऩय चर ऩाती है , नततनरमाॉ यॊ गीन होती हैं , जर कभर की ऩॊखुहड़मों ऩय हपसरता है , दध ू का यॊ ग आहद|

जो हक हभाये आस-ऩास विद्यभान हैं |

नेनो भीटय हकतना छोटा है ? ऩरयबाषा के अनुसाय, १ नेनो भीटय १ भीटय के १ कयोड़िे बाग के फयाफय होता है | एक नेनो भीटय ऩेन की नोक से एक राख गुना छोटा होता है | अनधक जानकायी के नरए नन्ही दनु नमा का प्रथभ अॊक दे खें| अॊक २ जून २०११

नन्ही दुननमा

क्मा तुभ स्ऩाइडय भेन की तयह उड़ना चाहते हो?

प्रष्ठ २

क्मा तुभ ने कबी सोचा है हक क्मों हभ

महद हाॉ तो इतनी नचकनी सतह ऩय कैसे चर

घड़ी एिॊ ऩॊखे को कीर/हुक के सहाये दीिाय

रेती हैं I क्मा िे कोई नचऩकने िारा ऩदाथि प्रमोग

तथा छत ऩय टाॊगते हैं ? क्मा तुभ ने कबी

कयते हैं ? महद हाॉ तो हभें मह नचऩकने िारा ऩदाथि

स्ऩाइडय भेन की तयह उड़ने की कल्ऩना की है ?

हदखाई क्मों नहीॊ दे ता है ?

एक नछऩकरी हकस प्रकाय दीिाय ऩाय यैं गतीहै ? क्मा मे हकसी प्रकाय का हुक प्रमोग कयती हैं ? अॊक २ जून २०११

अफ नछऩकरी को गौय से दे खो औय सभझो हक हकस तयह मह दीिाय से नचऩकी

नन्ही दुननमा

प्रष्ठ ३


यहती है | तो

जफ आऩ उसके ऩैयों को

दे खते हैं

प्रत्मेक नछऩकरी के दस राख सीटे

ऩाते हैं हक इन ऩय खुयदयाऩन एिॊ ये खाएॊ

१८० भाइिो न्मूटन तक का फर रगा सकते हैं |

उऩजस्थत हैं | मह ये खाएॊ राभेल्राए कहराती

नछऩकरी का औसत िजन २.२ न्मूटन होता है

हैं | िवक्तिारी सूक्ष्भदिी से दे खने ऩय हभ ऩाते हैं हक

प्रत्मेक

राभेल्राए

रम्फाई िारे धागों जजन्हें ढकी है |

प्रत्मेक

१००

''सीटे ''

भाइिोन

प्रमोग कयती है | मह िाॊडय-िार फर के सहमोग से

कहते हैं , से

नचऩकती है | िाॊडय-िार फर नेनो स्तय ऩय

''सीटे '' हभाये सय के फार से

दस गुना ऩतरा है |

हिमािीर होते आऩ जानते हैं

प्रत्मेक स्ऩेचुरा रगबग १०० नेनो भीटय आकाय की होती है | मह नेनो ऩैभाने की उच्च सीभा है | नेनो विऻानॊ भें हभ १ से १०० नेनो भीटय आकाय िारी िस्तुओॊ का अध्ममन कयते हैं | मह अनुभान रगामा गमा है हक चाय पुट रम्फी नछऩकरी के ऩैय

हैं हक

जो फहुत ही रुनचकय है | इस

धनािेनित, रयनािेवषत एिॊ

स्तय

ऩय

उदासीन होते

अणु

हकन्तु एक साथ रगने ऩय मे प्रफर हो जाते हैं जो गुरुत्ि से बी िवक्तिारी होते है |

औय अनधक नचऩनचऩे हो जाते हैं औय हकसी

जाती हैं |

सतह को अनधक प्रफरता से जकड़ रेते हैं |

इस स्ऩेचुरा के आकाय िारी प्रत्मेक

महद कोई सतह तो बी नेनो

मे स्ऩेचुरा औय अनधक सॊऩकि सतह प्रदान कयती हैं परत् नचऩकाि औय महद

नछऩकरी

हकसी धूर

फढ़ता

मुक्त सतह

है |

चरती है जजससे उसके सीटे एिॊ स्ऩेचुरा गॊदे हो प्रबावित कयता है हकन्तु इसे साप कयने भें कुछ

ऩैभाने ऩय इस भें ऩहाहड़मों के

सेकण्ड ही रगते हैं | मह फर हकसी टे ऩ भें रगने

उबायों भें बरी-बाॉती

फैठ

इन

िारे आसॊजक फरों से नबन्न हैं | टे ऩ भें धूर रगने

नहीॊ ऩाती है तो

ऩय इस की आसॊजन िक्ती घटती है जफहक

नछऩकरी हकस प्रकाय दीिाय ऩय नचऩकती है ? मह

ऩयभाणु भें इरेक्रोन की गनत के कायण मे हकसी चुम्फक के उत्तय एिॊ दजऺण ध्रुिों की

बाॊनत हद्रध्रुिीम हो जाते हैं | हकसी हद्रध्रुिीम ऩयभाणु भें धन-ध्रुि एिॊ ऋण ध्रुि दो नसये होते हैं | एक आकषिण िाॊडय-िार फर कहराता है जो हक हकसी चुम्फक के उत्तय एिॊ दजऺण ध्रुिों के भध्म रगने िारे फर के साभान है |

ऩय

जाते हैं तो मह इसके नचऩकने की ऺभता को

हैं |अफ अगय स्ऩेचुरा

िाॊडय-िार फर ऩयभाणु का धन-ध्रुि दस ू ये ऩयभाणु के ऋण-ध्रुि की ओय आकवषित होता है | मह जस्थय विद्युत

नचकनी एिॊ सऩाट है

साभान उबाय होते

बी स्ऩाइडय भेन की तयह उड़ ऩाते|

आकवषित होते हैं | मह विद्युत ् फर हैं जो दफ ि हैं ु र

िाखाओॊ भें १०० से १००० के फीच स्ऩेचुरा ऩाई

उस सतह ऩय नचऩक जाती है |

इसी तयह की नचऩकने की ऺभता होती तो आऩ

धनािेि, रयणािेि एिॊ रयणािेि, धनािेि की ओय

सतह ऩय चरने के दौयान मे स्ऩेचुरा

तयह से फैठ जाती है औय इस प्रकाय नछऩकरी

नरए आिश्मक होते हैं | महद आऩ के हाथ भें बी

हैं |

ऩय रगबग १० राख सीटे होते हैं | प्रत्मेक सीटे की

सीटे हकसी टे फर मा दीिाय के छे दों भें अच्छी

औय रगबग १२००० सीटे छत ऩय नछऩकने के

नचऩकाने िारा टे ऩ एिॊ नछऩकरी के ऩैय

नछऩकरी के ऩैयों एिॊ टे ऩ के नचऩकने के ऩीछे अन्तय-आणविक विद्युत ् फर (अणुओॊ के

फीच विद्युत ् चुम्फकीम फर)ही है | टे ऩ की फनािट यफड़ जैसी ही होती है जजसकी वििेषताएॊ

आणविक स्तय ऩय हकसी रि के साभान होती हैं | जफ टे ऩ हकसी सतह के सॊऩकि भें आता है तो औय अनधक आणविक विद्युत ् फर सहिम हो जाते हैं जजस से मह उस सतह को औय अच्छे से

ऩकड़ रेता है | टे ऩ भें प्रबािी फर हद्रध्रुि - हद्रध्रुि के भध्म अन्मोन्महिमा के कायण उत्ऩन्न होता है | नछऩकरी एक हद्रध्रुि अन्मोन्महिमा प्रेरयत कयती है जो दफ ि एिॊ अस्थामी होती है | ु र

नछऩकरी के साथ एसा नहीॊ है |

दीिाय ऩय नचऩकने के नरए विनबन्न मुवक्तमों का अॊक २ जून २०११

नन्ही दुननमा

प्रष्ठ ४

अॊक २ जून २०११

नन्ही दुननमा

प्रष्ठ ५


नछऩकनरमों के सभान

भकड़ी कैसे चरती है ?

कैसे चर ऩाती है |

भकहड़माॉ बी गनतभान होने के नरए नेनो तकनीक/िाॊडय -िार फर ऩय आधारयत नेनो फार ि नेनो ऩैयों का प्रमोग कयती हैं | सॊरग्न नचि भें आऩ मह बरी बाॊती दे ख सकते हैं |

िे प्रत्मेक सेटूल्स को िनभक रूऩ से उठाती हैं जजस से उन्हें हकसी सतह ऩय चरने भें फहुत कभ फर रगाना ऩड़ता है | ऩॊजखमाॉ एिॊ भजक्खमाॉ बी सभान तकनीक का प्रमोग कयती हैं |

आऩ दे खेंगे हक भकड़ी के ऩॊजे के नीचे

तफ हपय हभ दीिाय ऩय क्मों नहीॊ नचऩक सकते हैं

फारों का एक गुच्छा जजसे इस्कोऩुरा कहते हैं ,

जफ हक हभाये हाथ औय दीिाय के फीच साभान

ऩामा जाता है जो हक सीटे नाभक छोटे -छोटे फारों

िाॊडय-िार फर कामियत हैं | उत्तय आऩ जानते हैं |

से नघया यहता है | प्रत्मेक सीटे अननगनत छोटे

चूॊहक हभाये ऩास नेनो केि मा नेनो ऩैय नहीॊ

फारों से नघया यहता है जो भकड़ी को नचऩकने भें

होते जजस से सॊऩकि सतह अनधक नहीॊ होती है |

सहामता कयते हैं | िे फहुत ही घने एिॊ चौड़े होते हैं तथा हकसी विबुजाकाय आकृ नत की नोक ऩय

ऩाठकों की हटप्ऩणी :

जस्थत होते हैं | मह

विबुजाकाय

आकृ नत

िाॊडय-

िार फरों की सहामता से हकसी सतह ऩय सीधे ही नचऩक जाती है | एिाचाि अचुत ुँ ा नाभ की भकड़ी भें हकसी सतह ऩय नचऩकने हे तू रगबग

"नन्ही दनु नमा के प्रथभ सॊस्कयण को ऩढ़ कय अच्छा रगा| बविष्म भें इसी तयह की सेिाओॊ के नरए िुबकाभनाएॊ|" - फूऩथी, तनभरनाडू

६,२४,००० ऩैय होते हैं | आऩ अऩनी ऩीठ ऩय हकतने रोगों को उठा सकते हैं ? क्मा आऩ जानते हैं हक एक भकड़ी वफना छत से नगये अऩने साभान १७३ भकहड़मों का बाय अऩने कन्धों ऩय उठा सकती है | मह िाॊडय-िार आकषिण आस-ऩास के िाताियण जैसे गीराऩन, सूखाऩन अथिा तेरीम

"प्रथभ सॊस्कयण के नरए फधाई| मह ऩविका निोहदत िैऻाननकों के नरए एक अच्छा निऺक सावफत होगी | इस सयाहनीम कामि एिॊ इसे ननयॊ तय कयते

से अप्रबावित यहता है | मह केिर दो िस्तुओॊ के

यहने के नरए के नरए िुबकाभनाएॊ|" -

फीच की दयू ी ऩय

अनबयाभी, तनभरनाडू

ननबिय कयता है ,

हपय इतने प्रफर आसॊजक फर के फािजूद भकड़ी अॊक २ जून २०११

नन्ही दुननमा

प्रष्ठ ६

अॊक २ जून २०११

नन्ही दुननमा

प्रष्ठ ७


प्राकृ नतक ऩदाथों की स्ि- िुद्धीकयण तकनीक

नततरी को यॊ गीन हकस ने फनामा ?

(अ) कभर का आिनधित नचि (फ) उच्च आिनधित नचि (स) कभर की ऩत्ती एिॊ जर की फूॉदें

क्मा तुभ ने कबी कभर के फाहयी प्रनतरू

होने से फचाते हैं | भाइिो एिॊ नेनो स्तय की मे

ऩ ऩय ध्मान हदमा है ? क्मा तुभ ने कबी अऩने

वििेषताएॊ हकसी सतह औय जर अणुओॊ के फीच के

आस-ऩास ऩवत्तमों मा ऩजऺमों के ऩॊखों (जैसे फतख)

सॊऩकि ऺेि को फहुत अनधक फढ़ा दे ते हैं | आऩ

के स्ि- सपाई ऩय ध्मान हदमा है | ऩानी इन सतहों

जानते हैं हक इस ऩत्ती का सतहीम ऺेिपर फहुत

ऩय क्मों नहीॊ पैरता है ? मही प्रकृ नत की नेनो

जमादा है , हकन्तु कयोड़ों सूक्ष्भ सॊऩकि वफन्द ु इस

तकनीक है |

सतह एिॊ जर की फूॊदों के भध्म सॊऩकि कोण को

इस प्रकाय की ऩवत्तमाॊ (जैसे कभर) सभतर नहीॊ फजल्क फहुत खुयदयी होती हैं जो हक भाइिो भीटय आकाय की ऩवऩल्राए (जो एक नेनो भीटय आकाय के भोभ हिस्टर की िाखाओॊ से सुसजजजत होती हैं ) से ढकी होती हैं | भोभ हिस्टर जर वियोधी होते हैं जो जर कजणकाओॊ को प्रनतकवषित कयते हैं औय ऩत्ती की सतह को गीरा अॊक २ जून २०११

नन्ही दुननमा

िाॊनतक कोण तक नहीॊ ऩॊहुचने दे ते जजस से प्रष्ठ तनाि प्रबािी फना यहता है | मह "कभर प्रबाि" ही जर की फूॉद को गोराकाय भें फाॊधे यखता है औय फूॉद ऩत्ती की सतह ऩय हपसरती है जो अऩने साथ धूर एिॊ नभट्टी के कणों को बी सभेट रेती है | मह स्ििुद्धीकयण ही कभर को स्िच्छता का प्रतीक फनाता है | ऩत्ता गोबी एिॊ नततनरमों के ऩॊख बी इसी प्रकाय साप होते हैं | प्रष्ठ ८

क्मा आऩ ने नीरी भोपो नततरी दे खी है ? इस नततरी

के ऩॊख जझरनभराते नीरे यॊ ग के

होते हैं | आऩ सोचेंगे की नततरी के इस यॊ ग के ऩीछे कोई यॊ जक है , हकन्तु इस के ऩॊखों भें

की दयू ी ही जझरनभराती नीरी योिनी का कायण है | महद मह दयू ी एिॊ आऩतन कोण

फढ़ते है तो मह अन्म यॊ गों को बी ऩयािनतित कय सकती है |

कोई नीरा यॊ जक उऩजस्थत नहीॊ होता है |

तुभ ने दे खा होगा हक जीि -जॊतुओॊ के

इन सूक्ष्भ नचिों को दे जखमे: आऩ

ऩाएॊगे हक सबी नततनरमों के ऩॊख एक ननजद्ळत

िभ भें व्मिजस्थत ये खाओॊ से ढके हैं | इन भें

छद्म-आियण का यॊ ग बी फदरता यहता है | िे

मह तकनीक अऩनी आत्भ यऺा के नरए प्रमोग कयते हैं |

प्रत्मेक ऩयत ६२ नेनो भीटय चौड़ी २०७ नेनो भीटय दयू ी ऩय जस्थत हैं | मह २०७ नेनो भीटय अॊक २ जून २०११

नन्ही दुननमा

प्रष्ठ ९


विचाय

फात ऩय कोई चचाि होगी हक वफना ऩूणि ऻान के

स्कूरी छािों के नरए नेनो-विऻान की निऺा

विषमों को कैसे ऩढ़ामा जाए| साभान्मात् इस

मह कोई एसा विषम नहीॊ है जजसे

प्रकाय के ननणिमों को कऺाओॊ तक ऩॊहुचने औय

ऩाठ्मिभ भें अरग से जोड़ा जाना चाहहए - मह

उनका भूल्माॊकन होने भें एक दिक रग जाता है |

एक आकाय है - जजस के द्राया हभ आभ जीिन भें

नेता रोग मह नहीॊ जानते हक नेनो तकनीक

ऩृकृनत औय आस-ऩास के िाताियण के फीच के

िाॊती हकसी ऩुरुष, भहहरा मा फच्चे का इन्तजाय

सम्फन्ध को सभझते हैं | इसीनरमे, नेनो विऻान

नहीॊ कयती है | िे विऻान, अनबमाॊविकी, तकनीक

को दृश्म साधनों के साथ ऩाठ्मिभ भें िानभर

एिॊ गजणत (STEM) की उऩमोनगता को इस के

कयना हभायी जजम्भेदायी है |

“महद आऩ इस विश्व एिॊ उस से जुड़े भानिीम सॊफॊधों के फाये भें फच्चों की

उत्सुकता को छोटी अिस्था भें प्रोत्साहहत नहीॊ कयें गे तो आऩ उन्हें सदा के नरए खो दें गे|”

विनिष्ट आधाय (नेनो) के वफना ही नसद्ध कयने भें

जूहडथ राइट पेथेय

रगे हैं |

प्रेनसडें ट, नेनो टे क्नोरोजी ग्रुऩ , मु. एस. ए.

क्मों सबी छािों को नेनो स्तय विऻान ऩढ़ना चाहहए?

गत १५ सारों भें, भैं ने इस प्रद्ल का

एक दस ू या भुद्दा जो निऺक उठाते हैं ,

सयर उत्तय कई तयीकों से दे ने की कोनिि की है |

िह मह है हक िे नहीॊ जानते हक नेनो विऻान जैसे

कई फाय भुझे निऺावििायदों की आऩवत्तमों का बी

नमे ऩाठ्मिभों को ितिभान ऩाठ्मिभ भें कहाॉ

साभना कयना ऩड़ा है | विनबन्न कऺाओॊ के

स्थान हदमा जाए| विश्वविद्यारम जहाॊ ऩाठ्मिभ

विऻान के ऩाठ्मिभ भें नए ऺेिों को िानभर

तैमाय हुआ है , िहाॉ की ऩुस्तकें इस से भेर नहीॊ

कयने भें कई ग़रनतमाॉ हुईं हैं | कई निऺाविद

खाती हैं |

स्कूरी छािों को ननमनभत ऩाठ्मिभ ही ऩढ़ा कय आत्भसॊतुष्ट भहसूस कयते यहे हैं | कई निऺाविद कहते हैं हक छाि भुख्म विषमों के भूरबूत ननमभों को सभझने भें कहठनाई का साभना कयते हैं औय गजणत तथा व्माकयण आहद की ऩयीऺाओॊ भें उत्तीणि होने भें असभथि हैं | इसीनरमे विऻान के विषम कहठन सभझे जाते हैं औय इन भें नए ऩाठ्मिभ िानभर कयने के नरए सभम नहीॊ है जो हक एक चुनौती है ||

अॊक २ जून २०११

चाहहए|

अभेरयका भें चौथी कऺा तक विऻान को एक भानक विषम नहीॊ भाना जाता था औय कई याजमों भें इसे आठिीॊ कऺा तक के ऩयीऺा प्रद्लों भें बी स्थान प्राद्ऱ नहीॊ था| अॊतत् कोंग्रेस ने २०१० भें दोनों स्तयों ऩय इसे ऩयीऺा भें िानभर हकमा है | विऻान को कैसे ऩढ़ामा जाए, इस फात को रेकय नए भानक तम हकमे जा यहे है | इस फात की कोई ननजद्ळतता नहीॊ है हक नेनो विऻान को नए ऩाठ्मिभ भें स्थान प्राद्ऱ होगा अथिा इस

नन्ही दुननमा

प्रष्ठ १०

अनधकाॉि दे ि धीये -धीये इसके भहत्ि को सभझ यहे हैं औय हाई स्कूर के छािों के नरए

फायहिीॊ का स्तय अनधक भहत्िऩूणि है

अरग से ऩाठ्मिभ तैमाय कय यहे हैं | िे अबी बी

क्मों हक इसी दौयान बविष्म के नरए नए विचाय

बौनतकी, यसामन िास्त्र, गजणत औय जीि विऻान

एिॊ जानकारयमाॉ आकाय रेती हैं | महद आऩ अऩने

को विऻान के विनबन्न विषमों के रूऩ भें ऩढ़ा यहे

फच्चे की उत्सुकता को छोटी उम्र भें ही फढ़ािा

हैं , फजाम इस के हक उन्हें आऩस भें एकीकृ त कय

नहीॊ दें गे तो आऩ जल्दी ही उसे खो दें गे| विऻान

के ऻान के फढ़ते हुए नेनो ऺेि के रूऩ भें सभझामा

प्रकृ नत एिॊ विश्व भें घट यही घटनाओॊ का

जाए| ताइिान को छोड़ कय कुछ दे ि ही नेनो

अध्ममन कयना नसखाता है | विगत दो दिकों भें

विऻान को प्राथनभक एिॊ भाध्मनभक स्तय रागू

सूक्ष्भदनििकी के विकास से ही भानि ऩयभाजण्िक

कयने भें रूनच हदखा यहे है |

स्तय तक जा ऩामा है औय विऻानॊ की विनबन्न िाखाओॊ भें नई खोजें कय ऩामा है |

उनका कामििभ छ् प्राध्माऩकों एिॊ दो

नेनो

निऺकों के साथ २००२ भें प्रायम्ब हुआ था जजसे

विऻान िह आकाय हैं जहाॉ हभ ऩयभाणु एिॊ कणों

"नेनो तकनीक भानि सॊसाधन विकास" नाभ

के

हदमा गमा था| इस भें उन्होंने ऐसे नौजिान छािों

उनके ऩदाथि भें फदरने के ऩूिि की

ऊजाि को दे ख सकते है | विऻान

के

इस

महद हभें मुिा छािों को सभझाना है

ऩरयमोजना से जुड़े थे| इस दौयान (२००२-

गुणों को

२००७) निऺकों ने ऩुस्तकें, चानरत िीहडओ,

ऩयभाजण्िक तथा फृहद स्तय ऩय तुरना कयना है

हास्म ऩुस्तकें एिॊ िैजऺक िीहडओ खेर विकनसत

तो इसे 'ऩृकृनत का आधाय' जैसा ऩढ़ामा जाना

हकमे| २००९ भें प्रकानित अऩने प्रनतिेदन भें

तथा उस के

अॊक २ जून २०११

आकाय

को

को िानभर हकमा जो प्रायम्ब से ही हकसी

नन्ही दुननमा

प्रष्ठ ११


उन्होंने कहा हक ताइिान भें जो बी भूर ऩाठ्म साभग्री विकनसत हुई है , उसका अनुिाद अॊग्रेजी बाषा भें हकमा जा चुका है |भुझे आिा है हक िे

सभम भें अत्माधुननक नोट ऩेड के द्राया विधुत के

दे ि बी इस का राब रे सकें|

नसॊगाऩुय नान्माॊग

तकनीकी

विश्व

विद्यारम, हौस्टन याईस विश्व विद्यारम एिॊ

नेनो आकाय क्मों भहत्िऩूणि है एिॊ आने िारे सभम भें मह हकस तयह हभें प्रबावित

बायतीम गैय भुनापा कॊऩननमों के फीच हुए सभझौते को हभाया धन्मिाद जजस के होने से

कयने िारा है , को सभझाने के नरए छािों की

रगबग १० कयोड़ एसे

भाि बाषा भें नेनो विऻान सॊफॊधी साभग्री तैमाय

िारे विद्यारमों भें ऩड़ते हैं , सीधे ही विश्व के सफ से

कयना फहुत भहत्िऩूणि है | आने िारे दिक भें विऻान के ऺेि भें सबी तकनीकें नेनो आकाय के आस ऩास ही केजन्रत होंगीॊ|महद हभ हभाये छािों को इस "प्रकृ नत का आधाय " भानी जानी िारी तकनीक को व्माऩक रूऩ भें सभझाने भें ऩीछे यहे तो मह ननजद्ळत है हक िे िैजश्वक फाजाय भें वऩछड़ जामेंगे| इस ऩविका के सॊऩादकों द्राया बविष्म भें नेनो विऻान के प्रसाय को दे खते हुए, छािों के

नरए नेनो विऻान निऺा को उनकी भाि बाषा भें उऩरब्ध कयाना इस हदिा भें प्रथभ प्रमास है | महद निऺक मुिा छािों के नरए ऩाठ्मिभ को उनकी भाि बाषा भें अनुिाद कय सकें तो विनबन्न दे िों भें विकनसत सॊसाधनों का विश्व

आधुननक

इरेक्रोननक

फच्चे जो वफना विद्युत ् नोट

ऩेड

से

जुड़

जामेंगे|याईस विश्व विद्यारम के कृ ष्ण ऩारेभ, जो हक तीन भहाद्रीऩों के छािों के नरए विद्यारमों भें

प्रनतहदन

प्रमोग

होने

िारी

ने कहा

की बाषा फन चुकी है , हपय बी स्कूरी छािों के नरए साभग्री उनकी भाि बाषा भें ही तैमाय की जाना चाहहए|

भें उम्भीद कयती हूॉ की आऩ

ऩाठक के रूऩ भें सभझेगे हक क्मों छािों को नेनो विऻान का अध्ममन कयना एिॊ इसकी ओय झुकाि आिश्मक है |

ऺभता का दोहन तबी हो सकता है जफ हक

आबाय

तकनीक सस्ती हो तथा सभाज के सबी िगों तक ऩॊहुच सके| ऩारेभ की मुवक्त आई - स्रेट, एन. टी. मूॊ. के सतत एिॊ व्मािहारयक सूचना गनत विऻान केंर (ISAID) भें विकनसत हो यही है | आई-स्रेट

भें प्रकानित सी आय सी प्रेस की ऩुस्तक - नेनो

विश्वविद्यारम के स्नातकों द्राया फनामा गमी थी,

विऻानॊ निऺा के-१२ के छािों के नरए विश्व व्माऩी

बायत भें दस ू ये ऩयीऺण के नरए तैमाय है |

नन्ही दुननमा

साये विश्व भें सॊगोष्ठी, िोध ऩिों के प्रकािन आहद

1 Helen R. Quinn, PhD (NAS), Chair, NRC Committee to Develop Conceptual Framework for New Science Standards, Chair, NRC Board on Science Education 2 Light Feather, Judith, The 1st International Collaboration in U.S. On K-12 nanoscience courses, 2009, http://www.tntg.org/documents/52.html 3 Light Feather, Judith, Aznar, Miguel F., Nanoscience Education, Workforce Training and K-12 Resources. CRC Press, ISBN: 978-1-4200-5394-4 4 Press Release: Rice University, November 8, 2010, http://www.tntg.org/documents/47.html 5 University of Virginia, Virtual Nano Lab K-12. , http://www.virlab.virginia.edu/Nanoscie nce_class/Nanoscience_class.htm

हक बायत की सभस्त

जो हक गत गनभिमों भें एन.टी.मूॊ.

अॊक २ जून २०११

नरए

सही हदिा भें उठामे गए कदभ हैं | मद्यवऩ अॊग्रेजी

साभग्री

व्माऩी रूऩ भें आदान-प्रदान हो सकता है | हार ही

इॊ टयनेट कहड़माॉ उऩरब्ध कयाता है | आने िारे

भें फनामे गए ऩाठ्मिभ बायत के

का सस्ता इरेक्रोननक रूऩ तैमाय कयने के नरए प्रमासयत हैं ,

सन्दबि

नरए तीन बाषाओॊ

वफना ही इन कहड़मों से जुड़ सकेंगे|

इसे इन्टयनेट ऩय उऩरब्ध कयाएॉगे जजस से दस ू ये

विगत हदनों स्कूरी छािों के

प्रष्ठ १२

भें याईस

http://www.xs4all.nl/~ednieuw/Spiders/Salticidae/Salticidae.htm http://www.smartgarmentpeople.com/index.php?q=Nanosurfaces http://iopscience.iop.org/0964-1726/13/3/009/ http://spie.org/x33323.xml?ArticleID=x33323 http://www.sciencephoto.com/images/download_wm_image.html/Z762062-Geckos_footSPL.jpg?id=907620062 Y-T Cheng and D Rodak 2005Appl. Phys. Lett. 86 144101 J. Genzer, A. Marmur, MRS Bulletin 33 (2008) 742-746 http://www.nisenet.org/node/3454 http://www.mcrel.org/nanoleap/ps/index.asp http://www.eurekalert.org/pub_releases/2004-04/iop-smb041504.php Antonia B Kesel et al 2004 Smart Mater. Struct. 13,3, 512 doi: 10.1088/0964-1726/13/3/009 http://www.mpg.de/495111/pressRelease20040525 Images are reprinted with permission from IOP Publishing Model: Nada Fathima Chemban, Malappuram,kerala

अॊक २ जून २०११

नन्ही दुननमा

प्रष्ठ १३


हभाया उद्दे श्म ऐसे

वििेषऻ अनुबाग

हकॊग अब्दर ु अजीज विश्वविद्यारम, जेद्दाह , साउदी अये वफमा गणयाजम , ई भेर :shahkau@hotmail.com

सॊकामों

के

"बौनतक

कहा गमा हैं ,

से

िोध कत्ताि सम्ऩूणि

विऻान विनबन्न

विश्व

द्राया

साभना की जा यही सभस्माओॊ जैसे ऊजाि, जर की कभी, बूख, सम्ऩूणि निऺा, आतॊकिाद, गयीफी तथा आनॊद के सभमाबाि का हर ननकार सकते हैं | भेहडकर, फामोतकनीक, अनबमाॊविकी, बौनतक विऻान औय सूचना प्रोधोनगकी के ऺेि भें ननत नए होने िारे निप्रितिन िोध एिॊ विकास, तकनीक हस्ताॊतयण औय व्माऩायीकयण भें नई हदिाएॊ खोर यहे हैं | बविष्म भें नेनो तकनीक इसी प्रकाय से फहुविषमक ऺेिों भें अऩना मोगदान कयती यहे गी| उद्योगों भें

होने

नेनो

तकनीक

िारी अगरी िाजन्त है

औय

आने िारे कुछ िषों भें रगबग साये उधोग इस से प्रबावित होंगे|

कई उत्ऩादों भें सूचना प्रोधोनगकी औय नेनो तकनीक का सभािेि दे खने को नभरने की आिा है | नेनो तकनीक का कोई बी उत्ऩाद अॊनतभ नहीॊ है ियन मह कई औय नए उत्ऩादों के फनने भें सहामक है | अॊक २ जून २०११

नेनो कणों के प्रमोग द्राया एसी खाकी तैमाय की

भें प्रत्मेक ऩयभाणु उनचत स्थान ऩय जस्थत है |

जा यही है जो धूर कणों को प्रनतकवषित कय सके|

सह्सॊमोजी' सॊयचना तैमाय की जा सकती है |

बौनतकी विबाग , विऻान सॊकाम

फगीचा"

जजस

इस साभान्म उद्दे श्म के साथ ही कोई बी दृढ,

डॉ. एभ ्. ए. िाह

का

जा सकता है | कऩड़ा उद्योग भें अन्त् स्थावऩत

सॊयचनाएॊ फनाना है

नेनो तकनीक: बौनतक विऻान का एक फगीचा

इस फगीचे जजसे

उऩकयण एिॊ

ऩयभाणु हभाये ब्रह्माण्ड के के सभस्त ऩदाथों के

भूर बूत

अॊग हैं |

हभ सबी

ऩयभाणुओॊ से फने हैं |

सबी

उत्ऩाद ऩयभाणुओॊ से फने हैं | इन उत्ऩादों के गुण इस फात ऩय ननबिय कयते हैं भें ऩयभाणु

हक

उन

हकस प्रकाय व्मिजस्थत हैं |

महद हभ कोमरे भें

ऩयभाणुओॊ

को जभामें तो हीया प्राद्ऱ होगा| महद हभ ये त भें ऩयभाणु महद

जभामें तो हभें कॊप्मूटय नचऩ नभरेगी| धूर,

जर एिॊ िामु भें

ऩयभाणु

जभामे जाएॉ तो आरू उत्ऩन्न होंगे| जैसा हक आऩ जानते हैं नेनो तकनीक ऩयभाणु औय विश्व का अध्ममन है |

अणुओॊ को ऩुनव्मििजस्थत कय नए उत्ऩादों के ननभािण के साथ-साथ ऩुयाने उत्ऩादों भें सुधाय ऩय ध्मान दे ते हैं | मह एक मोग्मता है जजस के द्राया हभ गहयाई से जान ऩाते है की हकस तयह ऩदाथि के भूर तत्त्ि उत्ऩाहदत होते हैं औय हकस तयह मह भानि जानत के नरए राबदामक हैं | ऩरयबाषानुसाय मह एक अनबमाॊविकी है जजस भें

नन्ही दुननमा

प्रष्ठ १४

ामदा केिर खाकी

ऩहनने िारों को ही नहीॊ नभरेगा फजल्क

ाई

हभाये ऩास एसे फहुत साये भौके हैं

क्रीननॊग व्मिसामी, कऩढ़े धोने का साफुन फनाने

जजन के द्राया ितिभान सॊयचनाओॊ को नेनो

िारे आहद बी इस से प्रबावित होंगे जो हक

ऩैभाने भें फदरकय साकाय हकमा जा सकता है |

ग्राहकों की घटती सॊख्मा का साभना कयें गे| आऩ

कणों का आकाय छोटा होने से विधुतीम,

एक ऐसी िटि ़ी कल्ऩना कीजजमे जो आऩको

प्रकािीम एिॊ माॊविकीम गुण फदरते हैं जो

सद के हदनों भें ठण्ड से फचाएगी औय गनभिमों भें

भुख्मत् सतह औय क्िाॊटभ ऩरययोध के कायण

ठॊ डा यखेगी| साथ ही महद मह िटि उच्च ताऩ ऩय

होता है | इस का सफ से फड़ा उदहायण भाइिो

हल्के यॊ ग की है तो सहदि मों भें गहये यॊ ग भें

इरेजक्रननक्स है जहाॉ राॊनसस्टय का घटता

फदरकय आयाभ दामक एहसास कयामेगी| नेनो

आकाय उच्च ऺभता, तेज प्रनतिमा, कभ रागत

तकनीक ने सॊिेदकों के ऺेि भें बी अऩना

एिॊ ननम्न ऊजाि खऩत दिािता है | नेनो ऩदाथों

मोगदान हदमा है | महद मह सॊिेदक नसऩाहहमों की

की असाभान्म वििेषताएॊ सम्ऩूणि विश्व भें िोध

िद भें रगामे जाएॉ औय यक्त इन सॊिेदकों के

कतािओॊ को सयर औय सस्ती तकनीक का

सॊऩकि भें आता है तो मह िद ऩहनने िारे की

उऩमोग कय भहत्िऩूणि ऩदाथि फनाने के नरए

जस्थनत की जानकायी भुख्मारम तक ऩॊहुचा

प्रेरयत कयती हैं |

सकता है | इसके अरािा मह सॊिेदक ऩमािियण

नेनो तकनीक के फाये भें मह एक भ्राजन्त है हक मह उच्च दजे के िैऻाननकों से सम्फॊनधत है औय आभ आदभी की िजाम जहटर

नेनो तकनीक भें हभ ऩयभाणुओॊ एिॊ

इस तकनीक का

ऩरयमोजनाओॊ

से

सम्फॊनधत

है |

हकन्तु

व्मािसानमक रूऩ भें इस्तेभार होने ऩय मह आभ आदभी के नरए उऩमोगी सावफत होगी| तफ तक

की भोननटरयॊ ग एिॊ िामु भॊडर भें अिाॊनछत तत्िों की उऩजस्थनत फताने भें बी सहामक हैं | नेनो तकनीक के ऺेि भें अफ तक की प्रगनत हकसी फहुत फड़े उस हहभ खॊड के एक वफॊद ु के

सभान है जो कबी ना डू फने िारी िस्तुओॊ को बी डु फोने की ऺभता यखता है |

इस अद्भत ु विऻान को उऩमुक्त तकनीक भें

फदरना आिश्मक है | कऩड़ा उद्योग भें इसका प्रबाि हदखने रगा है | िास्ति भें नेनो तकनीक अफ पर दे ने की जस्थनत भें आ गई है | कऩड़े ऩय नेनो ऩयत चढ़ा कय इसे औय खूफसूयत फनामा

अॊक २ जून २०११

नन्ही दुननमा

प्रष्ठ १५

NanhiDuniyaa  

Free Hindi Children's Magazine on Nano Science and Technology

Read more
Read more
Similar to
Popular now
Just for you